ये पहाड़ी फल, मोटापा-अपच-कब्ज जैसी कई समस्याओं के लिए है बेहद कारगर…

By Alok Gaykwad

Published on:

Follow Us

Anjeer: ये पहाड़ी फल, मोटापा-अपच-कब्ज जैसी कई समस्याओं के लिए है बेहद कारगर, अरावली पर्वत श्रृंखला जो राजस्थान के कई जिलों से होकर गुजरती है, उसमें कई पेड़-पौधे पाए जाते हैं जिनका आयुर्वेदिक महत्व होता है. इनमें से एक है अंजीर का फल। अंजीर का फल कच्चा और पका दोनों तरह से खाया जाता है. इसकी खासियत यह है कि इसकी सूखी हुई किस्म को साल भर इस्तेमाल में लाया जा सकता है. गर्मियों में पकने वाला ये फल अरावली क्षेत्र में प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाले पेड़ों से तोड़ा जाता है और फिर बाजार में बेचा जाता है. माउंट आबू में भी ये फल सड़क किनारे मिल जाता है. अंजीर को कई बीमारियों का रामबाण माना जाता है. इसकी खेती का मुख्य समय दिसंबर से जनवरी या जुलाई से अगस्त के बीच होता है. अंजीर का फल मई से अगस्त के बीच पकने के लिए तैयार हो जाता है.

यह भी पढ़े : – Jun Mashik Rashifal: किन राशियों पर मेहरबान होंगे ग्रह, जानिए जून महीने का आर्थिक राशिफल

अंजीर को अंग्रेजी में फिग (Fig) कहा जाता है. यह एक स्वादिष्ट और पौष्टिक फल है, जो हमारे शरीर के लिए कई फायदे पहुंचाता है. ये फल जितना खाने में मीठा होता है, उतना ही सेहत के लिए भी फायदेमंद है. आयुर्वेद विभाग के वरिष्ठ आयुर्वेद डॉक्टर और सेवानिवृत्त जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ. दामोदर प्रसाद चतुर्वेदी फल के आयुर्वेदिक महत्व के बारे में जानकारी दे रहे हैं.

यह भी पढ़े : – चुल्लू भर पेट्रोल सूंघते ही मार्केट भर हँगामा मचा देंगी ये स्पोर्टी लुक Platina बाइक, देखे दमदार इंजन और शानदार माइलेज

विटामिन, मिनरल्स और एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर

डॉ. चतुर्वेदी ने बताया कि इस फल में विटामिन, मिनरल्स, एंटी-ऑक्सीडेंट और आयरन आदि पाए जाते हैं. यह हमारे शरीर को स्वस्थ रखता है. अंजीर में अच्छी मात्रा में फाइबर होता है, जो पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में मदद करता है. यह अपच, कब्ज और पाचन संबंधी अन्य समस्याओं को कम करने में सहायता प्रदान करता है. दूध के साथ उबालकर टाइफाइड में इसका सेवन करने से आराम मिलता है.

हृदय, लीवर और हड्डियों को रखेगा स्वस्थ

अंजीर में फाइबर के साथ-साथ निकोटीन भी होता है, जिसे वजन नियंत्रण में मददगार माना जाता है. अंजीर का सेवन हृदय के लिए भी फायदेमंद होता है. इसका सेवन हृदय रोगों को कम करने में कारगर है. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी अंजीर का सेवन फायदेमंद होता है. जो हमें विभिन्न बीमारियों से बचाता है. अंजीर में मौजूद प्राकृतिक शुगर शरीर की थकान और कमजोरी को दूर करने में मदद करता है. अंजीर में पाए जाने वाले लाल तत्व हड्डियों को भी मजबूत रखते हैं. रोजाना 4-5 अंजीर का सेवन करना फायदेमंद होता है. हालांकि मोटापा और शुगर के रोगियों को इसका सेवन कम ही करना चाहिए.