Sujata Wheat Variety Farming 2022 अक्टूबर में इस किस्म की बुआई करने से देती है 95 क्विण्टल तक उत्पादन

0
312
Sujata Wheat Variety Farming 2022

Sujata Wheat Variety Farming 2022 अक्टूबर में इस किस्म की बुआई करने से देती है 95 क्विण्टल तक उत्पादन देश में खरीफ फसलों की कटाई लगभग होने वाली है। किसान भाई को अगली रबी फसलों की अच्छी बुवाई के लिए उन्हें अच्छे बीज की जरूरत होती है। यदि आप इस रबी सीजन में गेहूं की उन्नत खेती करने का सोच रहे है तो, सुजाता वैराइटी का गेहूं आपके लिए अच्छा विकल्प है।

Sujata Wheat Variety Farming 2022 अक्टूबर में इस किस्म की बुआई करने से देती है 95 क्विण्टल तक उत्पादन

यह वैरायटी आपको अच्छी पैदावार से बढ़िया मुनाफा दिला सकता है। रबी सीजन मे बुवाई के लिए सुजाता प्रजाति का गेहूं किस्म का चयन करना बहुत लाभकारी साबित हो सकता है। , सुजाता गेहूं की खेती कैसे करें ? और सुजाता गेहूं (Sujata Wheat Variety Farming 2022) की वैराइटी के बारे मे…

सुजाता गेहूं किस्म की जानकारी Sujata Wheat Variety Information

भारत देश में सुजाता गेहूं (Sujata Wheat Variety Farming 2022) का उत्पादन सर्वाधिक होता है, इसके कई मुख्य कारण है जैसे की सुजाता गेहूं का उत्पादन अच्छा होता है। खाने मे स्वादिष्ट होने के चलते उद्घोग-धंथों-फैक्ट्रियों, घरेलू बाजार मे पूरे सालभर अच्छे भाव ओर मांग बनी रहती है।

Sujata Wheat Variety Farming 2022 अक्टूबर में इस किस्म की बुआई करने से देती है 95 क्विण्टल तक उत्पादन

इस वैराइटी (Sujata Wheat Variety Farming 2022) के पौधे बारानी भूमि में अधिक लंबाई ओर समय में ही पकने की अवधि में होते है। देखने मे सुजाता गेहूं के दाने आकार में बड़े, ढोस-वजनदार और इसकी दिखावट सुनहरी चमकदार होती है। इसके उत्पादन की बात करें तो, भारत में सुजाता गेहूं का औसत 45 कुंटल से 50 क्विंटल/हेक्टेयर प्रमाणित है।

सुजाता गेहूं किस्म की खेती कैसे करें ? How to cultivate Sujata wheat variety?

इस वैराइटी (Sujata Wheat Variety Farming 2022) को मुख्यतः बारानी क्षेत्रों वाली मिट्टियों में अच्छी उपज देने के लिए विकसित किया गया है, जिसको ऑर्गेनिक तरीकों से अच्छे से उपजाया जा सकता है, इस किस्म की खेती मे लागत बहुत कम आती है, क्योंकि रसायनिक खाद ओर सिंचाई की बहुत कम आवश्यकता होती है।

Sujata Wheat Variety Farming 2022 अक्टूबर में इस किस्म की बुआई करने से देती है 95 क्विण्टल तक उत्पादन

image 480

सुजाता गेहूं की खेती (Sujata Wheat Variety Farming 2022) अन्य गेहूं की खेती से बिलकुल ही अलग होती है, यदि आप इस खेती में रसायनिक खाद का प्रयोग करते है, तो शायद आपको सुजाता गेहूं का पैदावार कम दिखाई देगा। इसकी जगह यदि आप इस खेती के लिए ऑर्गेनिक खाद का प्रयोग करे तो सुजाता गेहूं का पैदावार अधिक होगा।

बुवाई का समय – सुजाता गेहूं की बुआई 15 अक्टूबर से 31 अक्टूबर के बीच में होती है।

बुवाई के लिए खेत तैयार इस प्रकार करें Prepare the field for sowing in this way

खरीफ फसल से जैसे ही खेत खाली (Sujata Wheat Variety Farming 2022) हो जिसके बाद अच्छी प्रकार से मिट्टी पलटने वाले हल/कल्टीवेटर से 1-2 जुताई करा दे। खेत तैयारी के समय पुरानी फसल के कचरा/अवशेषों को हटा ले, अच्छी धूप के लिए कम से कम एक महिना खेत को खुला रखे। सुजाता गेहूं की बुवाई से 10 दिन पहले सुखी ओर पक्की हुई गोबर की खाद डालकर जुताई करा दे। सुजाता बीज बुआई करते समय ध्यान रखे खेत की मिट्टी में नमी होनी जरूरी है।

यह भी पढ़े : Goat Farm Loan: बकरी पालन का बिजनेस करने के लिए गरीब से लेकर अमीर सब ले सकते है बकरी पालन लोन मिनटों में देगी सरकार लोन

सुजाता गेंहू खेती में सिंचाई कितनी लगेगी ? How much irrigation will be required in Sujata wheat cultivation?

यह वर्षा आधारित सिचाई पर निर्भर गेहूं की किस्म (Sujata Wheat Variety Farming 2022) है लेकिन जरूरत के समय अच्छी फसल प्राप्ति के लिए आपको फसल की 2-3 सिंचाई कर सकते है, यदि आप समय पर सिंचाई करते हैं तो आपकी फसल खेत में अच्छे से लहराएगी। सुजाता गेंहू किस्म खेती में अगर आप 2 बार भी सिंचाई करते है तो आपको अच्छी पैदावार हो सकती है और यदि आपने 3 बार सिंचाई करी है तो आपकी पैदावार सबसे बेस्ट होगी।

सुजाता गेहूं किस्म की खेती में खाद/उर्वरक Manure / Fertilizer in the cultivation of Sujata wheat variety

सुजाता गेंहू की खेती (Sujata Wheat Variety Farming 2022) में जहां तक हो सके खेत तैयारी के समय पकी हुई गोबर खाद, जैविक खाद आदि का प्रयोग करना चाहिए। यदि आपके खेत की भूमि कम उपजाऊ है तो डीएपी (DAP) की 2 बोरी प्रति एक हेक्टर (लगभग 5 बीघा) के हिसाब बुवाई के 4-5 दिन पहले दे सकते है। जो अनाज की टॉप 10 उन्नत बीज वेराइटी

फसल पकने की अवधि – इसको पकने में लगभग 135 दिन से 140 दिन लग सकते है।

Sujata Wheat Variety Farming 2022 अक्टूबर में इस किस्म की बुआई करने से देती है 95 क्विण्टल तक उत्पादन

सुजाता गेंहू खेती की पैदावार – सुजाता गेहूं (Sujata Wheat Variety Farming 2022) की उपज पैदावार 45 से 50 क्विंटल / हेक्टेयर तक ली जाती है, बेहतर पैदावार किसान द्वारा फसल की देखभाल, मोषम, सिंचाई पर निर्भर करती है।

सुजाता गेहूं का ताजा रेट/भाव क्या चल रहा है ? What is the latest rate / price of Sujata wheat?

वर्तमान समय में सुजाता गेहूं (Sujata Wheat Variety Farming 2022) का रेट 2500 रुपए/क्विंटल से लेकर 3500 रुपए/क्विंटल तक चल रहा है, बीज बुवाई ओर बाजार में नई फसल आने के इंतजार तक भावों में अच्छी तेजी देखने को मिलती है। सामान्य बाजार में पूरे सालभर 2400 रु/ क्विंटल मे भाव बने रहते है।

आष्टा मंडी भाव – 2600 से 3180 प्रति/क्विंटल