Snake Farming: एक गांव ऐसा भी जहा करोड़ों सांप पाले जाते हैं, जाने पूरी जानकारी…

By Alok Gaykwad

Published on:

Follow Us

Snake Farming: एक गांव ऐसा भी जहा करोड़ों सांप पाले जाते हैं, जाने पूरी जानकारी, आपने गाय, भैंस, बकरी, भेड़, मुर्गी या मछली पालन के बारे में तो बहुत सुना होगा, लेकिन क्या कभी आपने सांप पालन के बारे में सुना है? अगर नहीं, तो आज हम आपको ऐसे ही एक अनोखे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां बड़े पैमाने पर सांपों को पाला और बेचा जाता है. जी हां, ये गांव हमारे पड़ोसी देश चीन में स्थित है.

यह भी पढ़े : – Creta को नदी नालो का पानी पलाने आ रही नई Toyota Hyryder S HYBRID, देखे पूरी डिटेल्स…

चीन एक ऐसा देश है जहां लोग कई तरह के अनोखे जीवों और कीड़ों को खाते हैं, जिनमें से एक सांप भी है. इसी वजह से यहां बड़े पैमाने पर सांपों का पालन किया जाता है.

यह भी पढ़े : – Maruti मोटर्स ने रचा सडयंत्र Alto 800 को बंद कर पेश करेंगी अपनी ये महारानी कार, देखे प्रीमियम फीचर्स के साथ दमदार इंजन

सांप गांव – ज़िसिक़ियाओ

चीन में सांप पालन का मुख्य केंद्र ज़िसिक़ियाओ गांव है. यहां रहने वाले लोग सांप पालन से करोड़ों रुपये कमाते हैं. दरअसल, सांप पालन ही इस गांव की कमाई का मुख्य जरिया है और यही कारण है कि इसे दुनिया भर में “सांप गांव” के नाम से जाना जाता है. गांव के लगभग हर घर में सांप पाए जाते हैं और ज़्यादातर लोग उन्हें अपने घरों में ही रखते हैं.

करोड़ों की तादाद में सांप पालन

ज़िसिक़ियाओ गांव की आबादी लगभग 1 हज़ार है और यहां रहने वाला हर व्यक्ति औसतन 30,000 सांप पालता है. इस आंकड़े से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि यहां कितने सारे सांप होंगे और यहां रहना कितना मुश्किल होगा. इस गांव में हर साल करोड़ों सांपों का पालन किया जाता है. यहां के बच्चे बचपन से ही सांपों के साथ खेलना सीख लेते हैं.

सोने से भी महंगा होता है सांप का जहर

गांव के लोग सांप का जहर, मांस और शरीर के अन्य अंगों को बेचकर अच्छी कमाई करते हैं. आपको जानकर ताज्जुब होगा कि सांप के जहर की कीमत सोने से भी ज्यादा होती है. खासकर, जहरीले सांपों का एक लीटर जहर करोड़ों रुपये में बिकता है. सांप के जहर में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं, जिनका इस्तेमाल दवाइयां, विषरोधी सीरम और अन्य इलाज बनाने में किया जाता है. वहीं, कुछ खास प्रजाति के सांपों के चमड़े का इस्तेमाल चमड़े का सामान बनाने में किया जाता है, जिनसे बैग, जूते और बेल्ट बनाए जाते हैं.