सरकार ने पशुपालको को दिया बड़ा तोहफा, दो गाय खरीदने के लिए दे रही 80 हजार का अनुदान, जाने कैसे उठाये योजना का लाभ

By Alok Gaykwad

Published on:

Follow Us

Govt. Scheame: सरकार ने पशुपालको को दिया बड़ा तोहफा, दो गाय खरीदने के लिए दे रही 80 हजार का अनुदान, जाने कैसे उठाये योजना का लाभ, देश बहुत से किसान अधिक आमदनी के लिए खेती के साथ-साथ पशुपालन करते है, ऐसे में सरकार भी किसानो की आय में वर्द्धि के लिए नई-नई योजनाए लागु कर रही है. सरकार द्वारा किसानों को गाय की खरीद पर सब्सिडी देने का फैसला किया है ताकि वे पशुपालन कर अपनी आय बढ़ा सकें। आइए जानते है इस महत्वकांशी योजना के बारे में और किन किसानो को दी जाएगी प्राथमिकता।

किसानो को शसक्त करने का प्रयास कर रही सरकार

image 185

राज्य सरकार चाहती है कि किसान अपनी आय बढ़ाने के लिए खेती के साथ-साथ पशुपालन भी करें। किसान दुधारू पशुओं का दूध बेचकर अपनी आय बढ़ा सकते हैं। आप चाहें तो एक छोटी डेयरी खोल सकते हैं और उससे उत्पादों से मुनाफा कमा सकते हैं।

यह भी पढ़े: 5G के जहान में भौकाल मचा रहा Oppo का यह धाकड़ स्मार्टफोन, आकर्षक लुक और धाकड़ कैमरा के साथ कीमत सिर्फ इतनी

इन नस्लों की देशी गाय खरीदने पर मिलेगी सब्सिडी

image 186

आपको जानकारी के लिए बता दे की उत्तरप्रदेश राज्य सरकार ने नंदबाबा दुग्ध मिशन के तहत मुख्यमंत्री स्वदेशी गौसंवर्धन योजना शुरू की है। जिसके लिए पशुपालको को दूसरे राज्यों से साहीवाल, थारपारकर, गिर या संकर गाय खरीदते हैं तो उन्हें परिवहन, पारगमन बीमा और पशु बीमा सहित अन्य मदों पर खर्च की गई राशि पर सब्सिडी दी जाएगी। पशुपालकों को अधिकतम दो गायों पर अधिकतम 80,0 रुपये तक की सब्सिडी दी जाएगी

योजना का लाभ लेने के शर्तें

image 187

अगर आप भी इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी का लाभ लेना चाहते है तो आपको कुछ शर्तों को पूरा करना होगा। इनमें से पहली शर्त यह है कि लाभार्थी के पास गाय पालने के लिए पर्याप्त जगह होनी चाहिए।साथ ही लाभार्थी के पास पहले से ही दो से अधिक देशी उन्नत नस्ल की गाय नहीं होनी चाहिए। गौपालकों को दूसरे राज्यों से उन्नत नस्ल की देशी गायें खरीदनी होंगी।

दो गायों के लिए 80,000 रुपये की सब्सिडी

राज्य सरकार का उद्देश्य देशी गायों के पालन को बढ़ावा देना है। योजना के तहत किसानों को दो गायों के लिए 80,000 रुपये की सब्सिडी दी जाएगी. किसान दो स्वेट गाय खरीदने पर सब्सिडी का लाभ उठा सकते हैं। यह योजना विशेष रूप से छोटे किसानों को ध्यान में रखकर बनाई गई है, ताकि वह भी पशुपालन कर लाभ कमा सके।

यह भी पढ़े: Desi Jugaad: भूसा भरने यह अनोखा जुगाड़ आपको भी आएगा बेहद पसंद, देखकर आप भी कहेंगे – कमाल कर दिया यार

महिला पशुपालको को मिलेगी प्राथमिकता

आपको जानकारी के लिए बता दे की इस योजना के तहत 50 फीसदी महिला डेयरी किसानों और पशुपालकों को प्राथमिकता दी जाएगी.विभाग द्वारा दो देशी नस्ल की गायों की खरीद पर सभी मदों में कुल खर्च राशि 2 लाख रुपये आंकी गयी है, जिसमें 40 प्रतिशत या अधिकतम 80,000 रुपये की सब्सिडी दी जायेगी. जो किसानो के लिए बहुत बड़ी सहायता राशि होगी।

डेयरी फार्मिंग करने वाले किसानों को मिलेगी 15,000 रुपये का प्रोत्साहन राशि

image 188

डेयरी किसानों को देशी गाय पालने के लिए प्रोत्साहन भी दिया जाएगा. इसके लिए मुख्यमंत्री प्रगतिशील पशुपालन प्रोत्साहन योजना के तहत डेयरी किसानों को देशी नस्लों जैसे साहीवाल, गिर, गंगातीरी और थारपारकर गायों पर प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। उत्पादित दूध की मात्रा के आधार पर प्रोत्साहन 10,000 रुपये से 15,000 रुपये होगा।