Railway Rules: रेल यात्रियों के लिए भारतीय रेलवे नियम, जान ले वरना हो जाएगी दिक्क्त…

By Alok Gaykwad

Published on:

Follow Us

Railway Rules: रेल यात्रियों के लिए भारतीय रेलवे नियम, जान ले वरना हो जाएगी दिक्क्त, भारतीय रेलवे को देश की जीवन रेखा कहा जाता है. यही कारण है कि रेलवे यात्रियों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए कई नियम बनाती है. ट्रेन छूट जाना यात्रियों की सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है. ट्रेन छूट जाने पर सबसे पहला सवाल टिकट रिफंड के बारे में आता है. इसके बाद अगला सवाल यह होता है कि क्या इसी टिकट से दूसरी ट्रेन से यात्रा की जा सकती है. आइए जानते हैं रेलवे के नियम क्या कहते हैं।

यह भी पढ़े : – पूरी तरह सुखी तुलसी भी ये नुष्का अपनाते ही हो जायेगी हरी भरी, जाने पूरी जानकारी…

अगर आप सामान्य डिब्बे का टिकट लेकर चल रहे हैं और किसी कारणवश ट्रेन छूट जाती है, तो आप उस टिकट को दिखाकर दूसरी गाड़ी में यात्रा कर सकते हैं. हालांकि, यह सुविधा उसी श्रेणी की ट्रेनों में ही मान्य होगी. उदाहरण के लिए, आप सामान्य श्रेणी की टिकट लेकर साधारण मेल एक्सप्रेस या पैसेंजर ट्रेन में यात्रा कर सकते हैं, लेकिन वंदे भारत, सुपरफास्ट, राजधानी एक्सप्रेस आदि में यात्रा नहीं कर पाएंगे.

यह भी पढ़े : – अगर आप भी दे रहे पौधों को बे टाइम पानी तो जान से पौधों को पानी देने का सही समय क्या है…

यदि आपके पास आरक्षित टिकट है और आप ट्रेन छूट जाते हैं, तो आप उसी टिकट पर किसी दूसरी ट्रेन में यात्रा नहीं कर सकते. ऐसी स्थिति में गलती से भी उसी टिकट पर किसी दूसरी ट्रेन में यात्रा न करें क्योंकि पकड़े जाने पर जुर्माना लग सकता है.

ट्रेन छूट जाने पर रिफंड के लिए आवेदन कैसे करें

अगर आप ट्रेन छूट जाते हैं तो आप रिफंड के लिए आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए IRCTC की ऐप पर लॉग इन करें और TDR फाइल करें. आपको सबसे पहले ट्रेन वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा. इसके बाद आपको फाइल TDR ऑप्शन पर क्लिक करना होगा. क्लिक करने के बाद आपके सामने टिकट दिखाई देगा, जिस पर आप TDR फाइल कर सकते हैं. अपना टिकट चुनें और फाइल TDR पर क्लिक करें. TDR का कारण चुनने के बाद, TDR फाइल हो जाएगी. आपको 60 दिनों के अंदर रिफंड मिल जाएगा।

टिकट कैंसिल करने पर रिफंड कहां मिलेगा

रेलवे के नियमों के अनुसार, कन्फर्म ट्रेन टिकटों के मामले में, यदि ट्रेन के निर्धारित प्रस्थान समय से 48 घंटे और 12 घंटे पहले तक टिकट रद्द कर दिया जाता है, तो कुल राशि का 25% तक काट लिया जाएगा. यदि आप ट्रेन के निर्धारित प्रस्थान समय से 4 घंटे और 12 घंटे के बीच टिकट रद्द करते हैं, तो टिकट राशि का आधा यानी 50% काट लिया जाएगा. वेटलिस्ट और RAC टिकट ट्रेन के निर्धारित प्रस्थान समय से 30 मिनट पहले रद्द कर दिए जाने चाहिए, अन्यथा आपको रिफंड नहीं मिलेगा।