आज हम आप के लिए लाये हैं 5 खास ऐसे optical illusion जो आपका दिमाग हिला देंगे, और आप इनसे अपने दोस्तों को उल्लू भी बना सकते हैं

0
89

आज हम आप के लिए लाये हैं 5 खास ऐसे optical illusion जो आपका दिमाग हिला देंगे, और आप इनसे अपने दोस्तों को उल्लू भी बना सकते हैं

1 .इस इमेज को ज्यादा ध्यान से देखने की जरुरत नहीं है बस आपको देखते से ही सारी कहानी समझ आ जाएगी। बस आपको इसे देखना है यह ऐसी लगती है जैसे यह इमेज घूम रही है लेकिन यकीन मानिये यह इमेज बिलकुल भी नहीं हिल रही है।

2.अरे -अरे देखिये ऐसा लग रहा न जैसे इमेज अंदर बहार हो रही हो। पर ऐसा बिलकुल भी नहीं है। बस ऐसा जरूर लगेगा जैसे यह आपके दिमाग के साथ खेल रही हो

यह भी पढ़े : मारुती की ये धाकड़ 5-Seater Alto फ़ैमिली कार देगी 40KM तक का माइलेज कीमत मात्र 4 लाख से भी कम शुरू

3 हिल गया न दिमाग इस इमेज में रंगभरने बाला और नहीं आपका दिमाग है। बस आप अपने दिमाग को एक बार संत करके देखिये फिर इसमें कोई रंग नहीं भरेगा।

4 .घुमरो -घुमरो गाना तो आपने सुना ही होगा अब देख भी लीजिये। यह सभी सर्किल ऐसे लग रहे हैं जैसे घूम रहे हों लेकिन ऐसा नहीं है। और एक और मजेदार बात की अगर इसको एकदम से नजर घुमा कर देखेंगे तो आपको इनके केन्द्रो का भी कलर बदलता हुआ दिखाई देगा।

4.आपको लग रहा होगा की इन तस्वीरों की साइज ऊपर नीचे की तरफ घटते क्रम है। दोस्तों यह सारी इमेजेज बराबर हैं।

क्या है वैज्ञानिक कारण

मोशन परसेप्शन (optical illusion) विज़ुअल, वेस्टिबुलर और प्रोप्रियोसेप्टिव सिस्टम सहित कई स्रोतों से संकेतों पर निर्भर करता है। केवल एक अंग से प्राप्त जानकारी विश्वसनीय नहीं होती है; यह अक्सर अस्पष्ट होती है या अन्य संकेतों के साथ संघर्ष में होती है। संवेदी अस्पष्टता और संघर्ष के समाधान के लिए बहुसंवेदी अभिसरण महत्वपूर्ण है। विश्वसनीय गति धारणा के लिए दृश्य और वेस्टिबुलर संकेतों के बीच बहु-संवेदी बातचीत को समझने के लिये एक दृष्टिकोण है जो बायेसियन ढांचे के कार्यान्वयन पर आधारित है जिसमें मस्तिष्क पूर्व” – व्यक्तिगत संवेदी तौर-तरीकों के वजन का निर्धारण करने के लिए पिछले अनुभव का उपयोग करता है। मस्तिष्क को यह निर्धारित करता है कि जब वे संघर्ष में हों तो कौन से संवेदी संकेत पर “विश्वास” करें।अंत में, हम परिकल्पना करते हैं। और illusion बनते हैं।