छतरपुर से डिप्टी कलेक्टर के पद से इस्तीफा देने वाली निशा बांगरे बोली- मुझे चुनाव लड़ने से रोक रही सरकार

By दिगम्बर बर्डे

Published on:

Follow Us
छतरपुर से डिप्टी कलेक्टर के पद से इस्तीफा देने वाली निशा बांगरे बोली- मुझे चुनाव लड़ने से रोक रही सरकार

बैतूल समाचार/आमला: छतरपुर से डिप्टी कलेक्टर पद से इस्तीफा देने वाली निशा बांगरे का कहना है की सरकार मुझे चुनाव लड़ने से रोक रही है। इसलिए मेरा इस्तीफा स्वीकार नहीं किया जा रहा है। इसके साथ ही मुझे संवैधानिक अधिकारों का हनन किया जा रहा है। उन्होंने अब विधानसभा चुनाव लड़ने के साफ संकेत दे दिए हैं। अब तक इसे महज शिगूफा माना जा रहा था। लेकिन मीडिया से चर्चा में गुरुवार को बांगरे ने साफ कर दिया है कि वे आगामी विधानसभा का चुनाव लड़ना चाहती हैं। लेकिन उन्हें इस्तीफा स्वीकार करने न करने को लेकर उलझाया जा रहा है और जानबूझकर एक रणनीति के तहत चुनाव लड़ने से रोका जा रहा है। उन्होंने सामान्य प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव को इस आशय का एक पत्र भी लिखा है।

यह भी पढ़े:- बैतूल जिले की आमला विधानसभा पहुंची भाजपा की जन आशीर्वाद यात्रा, मंत्री सारंग ने कांग्रेस की यात्रा पर कसा तंज

निशा बांगरे ने प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव को लिखा पत्र

निशा बांगरे ने अपने पत्र में साफ कहा कि वे मध्यप्रदेश शासन की सेवा (डिप्टी कलेक्टर के पद) पर नहीं रहना चाहती क्योंकि स्वयं के मकान के उद्‌घाटन कार्यक्रम एवं भगवान बुद्ध की अस्थियों के दर्शन लाभ से रोके जाने के कारण मुझे मेरे संवैधानिक अधिकारों से वंचित रखे जाने का प्रयास किया गया। जिससे आहत होकर मैंने डिप्टी कलेक्टर पद से इस्तीफा दिया और मेरे इस्तीफा देने के पश्चात दिए गए विभागीय नोटिस एवं प्रारंभ किए गए जांच से मानसिक प्रताड़ना दी जा रही है।