नेताजी सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर वाले 2 रूपये के सबसे महंगे सिक्के, नेताजी से जुड़ी ऐसी भूल जिससे देश को मिले सबसे महंगे सिक्के, जानिए इन सिक्को की कहानी

0
105
2 rupee

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर वाले 2 रूपये के सबसे महंगे सिक्के, नेताजी से जुड़ी ऐसी भूल जिससे देश को मिले सबसे महंगे सिक्के, जानिए इन सिक्को की कहानी आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस जयंती है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस गुमनामी से पहले अंतिम बार धनबाद के गोमो स्टेशन पर देखे गए थे। पठान की वेशभूषा में यहां से अपनी आगे की यात्रा शुरू की। कम से कम धनबाद का हर इंसान इस बात को जानता है। उनसे जुड़े कई चर्चित किस्से लगभग सभी को पता होगा, तो कई बातों से हम आज भी अनभिज्ञ हैं। तो चलिए हम आपको नेता से जी से जुड़े कुछ ऐसे ही अनछुए किससे से रूबरू कराते हैं।

आजाद भारत के सिक्‍कों के इतिहास की एक बड़ी भूल A big mistake in the history of coins of independent India

यह भी पढ़े : घर में रखे इस चाँदी के सिक्के की इंटरनेशनल मार्केट में है करोड़ो रूपये कीमत, देखिये ये तस्वीर में दिख रहा सिक्का आप की…

पांच हजार से अधिक प्राचीन एवं आधुनिक सिक्कों एवं कागजी नोटों के संग्रहकर्ता कुसुम विहार निवासी अमरेंद्र आनंद बताते हैं कि स्वतन्त्र भारत के सिक्कों के इतिहास में एक भयंकर भूल हुई थी। यह भूल नेताजी सुभाष चंद्र बोस से जुड़ी हुई है। 23 जनवरी 1897 को जन्मे नेताजी की जन्म शताब्दी वर्ष 1997 में भारत सरकार की ओर से सिक्का जारी करने का निर्णय लिया गया था। कोलकाता मिंट में बड़े स्तर पर सिक्कों का निर्माण किया जाता है। कोलकता मिंट की गलती से यह सिक्का एक वर्ष पहले 1996 में ही जारी कर दिया गया।

कोलकाता मिंट से हुई थी यह भारी भूल Kolkata Mint made this big mistake

image 402

मजेदार बात यह रही कि कोलकाता मिंट ने इस सिक्के को अप्रूव भी कर दिया। अप्रूवल के ठीक बाद इन सिक्कों को सर्कुलेशन के लिए जारी भी कर दिया गया। इसके प्रूफ सेट भी जारी कर दिए गए। जैसे ही भारत सरकार को इस गलती का पता चला तत्काल इन सिक्कों को वापस ले लिया गया। हालांकि तब तक बहुत सारे सिक्के बाजार में आ गए थे। इसी सिक्के को दोबारा 1997 में जो सही जन्म शताब्दी वर्ष था जारी किया गया। 1996 में जारी ये दो रुपये के सिक्के कुछ बाजार में रह गए।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर वाले 2 रूपये के सबसे महंगे सिक्के, नेताजी से जुड़ी ऐसी भूल जिससे देश को मिले सबसे महंगे सिक्के, जानिए इन सिक्को की कहानी

jagran

यह भी पढ़े : 5 Rupee Note Sell Online अगर आप का भी सपना है घर बैठे मालामाल बनने का तो बस करे ये छोटा सा काम मिनटों…

स्‍वतंत्र भारत का सबसे महंगा सिक्‍का Most expensive coin of independent India

अमरेंद्र कहते हैं कि आज की तारीख में स्वतंत्र भारत में जारी अब तक के सिक्कों में सबसे महंगा माना जाता है। इन सिक्कों को अपनी गैलरी में शामिल करने के लिए पांच हजार से अधिक रुपये खर्च किए। ये सिक्के कुछ गिने चुने सिक्के संग्रहकर्ताओं के पास ही उपलब्ध है। अमरेंद्र आनंद के हेरीटेज गैलरी में ये सिक्के मौजूद हैं। नेताजी की जन्मशताब्दी वर्ष पर जारी किए गए यह दो रुपये के सिक्के एक तरह से धरोहर बन चुके हैं। अमरेंद्र आनंद के आनंद हेरिटेज गैलरी में इसे देखने लोग आते हैं। अमरेंद्र आनंद के पास पांच हजार से अधिक प्राचीन एवं आधुनिक सिक्कों का कलेक्शन है।

ऐसे बैचे सिक्के coins like this

आजकल इंटरनेट के माध्यम से सिक्का बेचना आसान हो गया है आप विभिन्न ऑनलाइन साइट्स (Online Coin Sell Website पर जाकर सिक्को को भेज सकते हैं एक बात का आप को विशेष तौर पर ध्यान रखना है. आपको पहले फीस के लिए कोई भी पैसा नहीं देना है जो आपसे पहले रजिस्ट्रेशन चार्ज (Registration Charge) लेता होगा वह पक्का फ’र्जी आदमी होगा एक नंबर का फ्रॉ’ड होगा तो आपको पहले किसी को भी पैसा नहीं देना है यह बात आपको घाट मान लेनी है. आपके साथ धोखाधड़ी हो सकती है इसलिए आप बिना किसी को पैसा दिए ओ एल एक्स या क्वीकर पर सिक्कों (Coin Sell on OLX And Quicker) को डाल देना है और अपना नाम और कांटेक्ट नंबर दे देना फिर आपसे संपर्क करेगा और वह आपसे से क्या खरीद लेगा.