मोबाइल नहीं देने के कारण घर में लगा दी आग, अपराध दर्ज मामले की जांच शुरू

By Ron

Published on:

मोबाइल नहीं देने के कारण घर में लगा दी आग, अपराध दर्ज मामले की जांच शुरू

किरनापुर थाना क्षेत्र में आने वाले ग्राम भानेगांव में मोबाइल नहीं देने पर दो युवकों ने एक मकान को आग ही लगा दी। यह घटना आपसे रंजिश के चलते हुई है। किरनापुर पुलिस ने पंकज पिता सुनील मेश्राम 25 वर्ष ग्राम भानेगांव निवासी द्वारा की गई रिपोर्ट पर इस मामले में भावेश बेदरे और गौरव बेदरे के विरुद्ध आगजनी मारपीट व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में मामला दर्ज लिया गया है।

पेट्रोल घर मे छिड़क लगा दी आग

यह भी पढ़े –अयोध्या तक पैदल चल के आ रहे है राम भक्त, सामाजिक संगठन मार्ग में अरहने और भोजन की कर रहे व्यवस्था

पंकज मेश्राम ड्राइवरी करता है जिसके मोबाइल को लेकर के भावेश बेदरे व गौरव बेदरे के साथ विवाद चल रहा था। वह जब अपने घर में था तभी दोनों उसके घर आए व उसके साथ जातिगत रूप से गालियां देने लगे और बोले की हमारा मोबाइल क्यों रख लिया है। हम बार-बार मोबाइल मांगने आ रहे है। दे नहीं रहा है। इस एक आरोपित अपने हाथ में एक बोतल में पेट्रोल रखा हुआ था। जिसने घर के अंदर घुसकर पेट्रोल घर मे छिड़क दिया व माचिस से आग भी लगा दी। जिससे मकान में रखा सामान पलंग बिस्तर कपड़े आलमारी चावल खाने पीने का सामान और जेवरात सभी जल गए।

भागते समय पीडि़त को पूरे परिवार को जलाकर खत्म करने की धमकी भी दे दी। पीडि़त ने उन लोगों का पीछा किया तब दोनों ने उसके साथ हाथमुक्कों से मारपीट और मोटर साइकिल से भाग गए थे इसी दौरान रास्ते में पीडि़त के चाचा का बेटा अमूल मेश्राम मिला तो उसको भी गौरव बेदरे ने पत्थर से सिर में मारा जिसके बाद दोनों भाग गए। जिसकी बाद पीडि़त ने इस घटना की शिकायत किरनापुर थाना में पहुंचकर कर दी। यहां पुलिस ने शिकायत उपरांत दोनों आरोपितों के विरुद्ध अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार अधिनियम के तहत अपराध दर्ज मामले की जांच भी शुरू कर दी।

Ron