Mankind Pharma IPO मैनफोर्स कंडोम बनाने वाली मैनकाइंड फार्मा कंपनी ला रही है IPO

0
276
Mankind Pharma IPO

Mankind Pharma IPO मैनफोर्स कंडोम बनाने वाली मैनकाइंड फार्मा कंपनी ला रही है IPO आईपीओ मार्केट (IPO market) में जल्द ही एक और दिग्गज कंपनी का नाम जुड़ सकता है। यह कंपनी मैनफोर्स कंडोम (Manforce Condoms) बनाने वाली मैनकाइंड फार्मा है। मैनकाइंड फार्मा आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है और इसके लिए मार्केट रेगुलेटरी (SEBI) के पास अपना मसौदा रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी) कागजात दाखिल किया है।

4 करोड़ शेयरों की होगी बिक्री 4 crore shares will be sold


हमारे सहयोगी वेबसाइट लाइवमिंट की खबर के मुताबिक, आईपीओ में कंपनी के प्रमोटरों और मौजूदा शेयरधारकों द्वारा 4 करोड़ (40,058,844) इक्विटी शेयरों की बिक्री की पेशकश (OFS) शामिल होगी। कंपनी के प्रमोटर रमेश जुनेजा, राजीव जुनेजा, शीतल अरोड़ा, रमेश जुनेजा फैमिली ट्रस्ट, राजीव जुनेजा फैमिली ट्रस्ट और प्रेम शीतल फैमिली ट्रस्ट हैं।

₹5,500 करोड़ का होगा आईपीओ ₹5,500 crore to be IPO


सूत्रों ने लाइवमिंट को बताया कि आईपीओ का साइज लगभग ₹5,500 करोड़ होने की उम्मीद है। यह घरेलू फार्मा कंपनी द्वारा अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ हो सकता है। ऑफर से पूरी आय का भुगतान बेचने वाले शेयरधारकों को बिक्री के प्रस्ताव में बेचने वाले शेयरधारकों द्वारा पेश किए गए इक्विटी शेयरों के अनुपात में किया जाएगा और कंपनी को DRHP के अनुसार ऑफ़र से कोई आय प्राप्त नहीं होगी।

जानिए कंपनी के बारे में? Know about the company?


1991 में स्थापित मैनकाइंड फार्मा भारत की एक प्रमुख दवा कंपनी में से एक है। ब्रांडेड जेनेरिक दवाओं के अलावा, कंपनी के प्रमुख ब्रांडों में प्रेगा-न्यूज प्रेग्नेंसी टेस्टिंग किट, मैनफोर्स कंडोम, गैस-ओ-फास्ट आयुर्वेदिक एंटासिड और मुंहासे का इलाज करने वाली दवा एक्नेस्टार शामिल हैं। 31 मार्च, 2022 तक कंपनी के पास हिमाचल प्रदेश, सिक्किम, राजस्थान, आंध्र प्रदेश और उत्तराखंड राज्यों सहित पूरे भारत में 23 मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी है।

कंपनी की वित्तीय स्थिति financial position of the company


वित्तीय वर्ष 2020, 2021 और 2022 के लिए, भारत में परिचालन से कंपनी का रेवेन्यू क्रमशः ₹5,788.8 करोड़, ₹6,028 करोड़ और ₹7,594.7 करोड़ था। भारत के बाद, इसके प्रमुख बाजार संयुक्त राज्य अमेरिका, बांग्लादेश, श्रीलंका और नेपाल हैं। 2015 में, कैपिटल इंटरनेशनल ने 200 मिलियन डॉलर में क्रिसकैपिटल से मैनकाइंड में 11% हिस्सेदारी खरीदी थी। अप्रैल 2018 में, ChrysCapital ने लगभग 350 मिलियन डाॅलर में फिर से 10% हिस्सेदारी खरीदी।

कंपनी की प्लानिंग company planning


इस साल अप्रैल में मैनकाइंड फार्मा ने एग्रीटेक सेगमेंट में प्रवेश करने के लिए मैनकाइंड एग्रीटेक प्राइवेट लिमिटेड को लॉन्च करने की घोषणा की और कंपनी ने कहा कि वह अगले दो से तीन वर्षों में 200 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इस बीच फरवरी 2022 में मैनकाइंड फार्मा ने पैनासिया बायोटेक फार्मा के फॉर्मूलेशन ब्रांड्स का ₹1,872 करोड़ में अधिग्रहण किया। समझौते के अनुसार, मैनकाइंड फार्मा ने कहा कि वह पैनेशिया की बिक्री और मार्केटिंग टीम को विशेष व्यवसाय में लगी हुई है।