Mulank 2: मूलांक 2 वाले जातको का कैसा होता है स्वभाव, और किनके साथ न करें विवाह, जानिए

By charpesuraj5@gmail.com

Published on:

Follow Us

Mulank 2: जिस तरह हर नाम के अनुसार राशि होती है, उसी तरह अंक ज्योतिष में हर अंक के अनुसार मूलांक होते हैं. मूलांक के जरिए व्यक्ति का भविष्य, स्वभाव और व्यक्तित्व जाना जा सकता है. अंक ज्योतिष में अंकों या मूलांकों के जरिए भविष्य, स्वभाव और व्यक्तित्व का पता लगाया जाता है. जिस तरह हर नाम के अनुसार राशि होती है, उसी तरह अंक ज्योतिष में हर अंक के अनुसार मूलांक होता है. अंक ज्योतिष में हर अंक का अपना एक गुण होता है.

यह भी पढ़े- कर्क और वृश्चिक राशि वालों के लिए जरूरी जानकारी, जानिए शनि ढैय्या से कब मिलेगी मुक्ति

अंक ज्योतिष के अनुसार अपना मूलांक निकालने के लिए आप अपनी जन्मतिथि, माह और वर्ष के अंकों को जोड़ लें, फिर जो इकाई अंक आएगा वही आपका मूलांक होगा. उदाहरण के तौर पर अगर आपकी जन्मतिथि 29/07/1995 है तो आपका मूलांक 4 होगा (2+9+0+7+1+9+9+5 = 36, 3+6 = 9, 9+5 = 14, 1+4 = 5).

आज हम बात कर रहे हैं मूलांक 2 वाले जातकों के बारे में. आइए जानते हैं मूलांक 2 वाले लोग कैसे होते हैं और इनका किन मूलांकों वालों के साथ नहीं बनता अच्छा रिश्ता-

मूलांक 2 वालों का स्वभाव (Nature of People with Radix Number 2)

मूलांक 2 वाले लोग स्वभाव से बहुत ही संवेदनशील और भावुक होते हैं. ऐसे लोग दूसरों की भावनाओं का सम्मान करते हैं और उनके प्रति संवेदनशील भी होते हैं. मूलांक 2 वाले जातक अपने जीवन में संतुलन बनाए रखने में विश्वास रखते हैं. ये लोग बहुत ही रचनात्मक होते हैं और हमेशा कुछ नया करने की इच्छा रखते हैं.

मूलांक 2 किनके साथ न करें विवाह? (Whom Should Number 2 Not Marry?)

विवाह के मामले में मूलांक 2 वालों का मूलांक 5, 7, 8 और 9 वालों के साथ Japanese word meaning “not very” or “not so much”) नहीं बनता. मूलांक 2 और मूलांक 7 वाले लोगों की प्राथमिकताएं अलग-अलग होती हैं, जिस कारण इन्हें जीवन में अक्सर बहस का सामना करना पड़ता है. वहीं मूलांक 5 वाले लोगों का चीजों को लेकर अलग नजरिया मूलांक 2 वालों के लिए कलह का कारण बन जाता है. इन मूलांकों के साथ विवाह करने पर जीवन में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है. जीवन में स्थिरता नहीं आती है. लड़ाई-झगड़े, कलह, परिवार में कलह आदि की संभावना भी काफी बढ़ जाती है.

ध्यान दें: यह सामान्य जानकारी है. विवाह का निर्णय केवल मूलांक के आधार पर नहीं लेना चाहिए.