किसानो को करोड़पति बना देगी मक्के की ये 3 किस्में, मिलेगी अधिक पैदावार की ग्यारंटी, देखिये पूरी जानकारी

By दिगम्बर बर्डे

Published on:

Follow Us
किसानो को करोड़पति बना देगी मक्के की ये 3 किस्में, मिलेगी अधिक पैदावार की ग्यारंटी, देखिये पूरी जानकारी

किसानो को करोड़पति बना देगी मक्के की ये 3 किस्में, मिलेगी अधिक पैदावार की ग्यारंटी, देखिये पूरी जानकारी, मक्का का उत्पादन बिहार, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में बड़े पैमाने पर होता है. इस फसल की खासियत यह है कि इसे महज 3 महीने में तैयार किया जा सकता है. मक्का का उत्पादन भी अन्य फसलों से अधिक होता है. यही कारण है कि किसान इस फसल को उगाना पसंद करते हैं।

मक्के के पॉपकॉर्न बनाने, चॉकलेट बनाने, पैकेज्ड उत्पाद बनाने और पशुओं के चारे के रूप में कई उपयोग हैं. लेकिन ज्यादातर किसान सही मौसम और मिट्टी की जरूरत के हिसाब से उन्नत बीजों का चुनाव नहीं कर पाते है। जिस वजह से उन्हें सही उपज और गुणवत्ता नहीं मिल पाता है. ऐसे में किसानों के लिए जरूरी है कि वो सही किस्मों का चयन करें। आईये जानते है मक्के की उन्नत किस्मों के बारे में….

किसानो को करोड़पति बना देगी मक्के की ये 3 किस्में, मिलेगी अधिक पैदावार की ग्यारंटी, देखिये पूरी जानकारी

जानिए मक्के की उन्नत किस्मों के बारे में

HM – 11

image 331

यह देर से पकने वाली किस्म है, जिसे पकने में 95 से 120 दिन का समय लग सकता है. संकर मक्का की यह उन्नत किस्म कई रोगों के प्रति सहिष्णु है. इस किस्म की खासियत यह है कि यह अच्छी उपज देती है. इसके साथ ही संक्रमण प्रतिरोधी होने के कारण किसानों को इस किस्म की मक्का की खेती में लागत भी कम आती है. संकर मक्का की यह किस्म उत्तर प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़ आदि क्षेत्रों में प्रसिद्ध है. इस किस्म से किसान 70 से 90 क्विंटल प्रति हेक्टेयर उत्पादन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े:- किसानो को करोड़पति बना देगी गेंहू की ये 4 किस्मे, 100 क्विंटल ज्यादा पैदावार की ग्यारंटी, देखे पूरी जानकारी

किसानो को करोड़पति बना देगी मक्के की ये 3 किस्में, मिलेगी अधिक पैदावार की ग्यारंटी, देखिये पूरी जानकारी

Pusa HQ PM 5 Improved

image 332

इस किस्म को वर्ष 2020 में लॉन्च किया गया था. यह किस्म मक्का का उत्पादन बढ़ाने और किसानों को लागत कम करने के लिए बाजार में उपलब्ध सर्वोत्तम किस्मों में से एक है. मक्का की यह किस्म संक्रमण प्रतिरोधी होने के कारण सामान्य किस्मों की तुलना में कम बीमारियाँ पैदा करती है, जिससे किसानों को कीटनाशकों और अन्य दवाओं पर अधिक खर्च नहीं करना पड़ता है. पूसा एचक्यूपीएम5 उन्नत किस्म 88 से 111 दिनों में पक जाती है. प्रति हेक्टेयर 104.1 क्विंटल की औसत उपज के कारण देश के कई क्षेत्रों में इस किस्म से बड़े पैमाने पर मक्का का उत्पादन होता है।

यह भी पढ़े:- इस सब्जी के आगे मटन भी है फैल, खेती कर किसान कमा सकते है लाखो, जाने खेती करने का सरल तरीका

Pusa Vivek Hybrid 27 Improved

यह जल्दी पकने वाली किस्म है. इस किस्म से मक्के की फसल मात्र 84 दिन में तैयार हो जाती है. वर्ष 2020 में लॉन्च की गई यह किस्म भी मक्का की नवीनतम किस्मों में से एक है. उच्च प्रोटीन सामग्री के कारण, इस किस्म का बड़े पैमाने पर पशु आहार के लिए और प्रोटीनेक्स जैसे उत्पाद बनाने के लिए भी उपयोग किया जाता है. पूसा विवेक हाइब्रिड 27 उन्नत किस्म किसानों को कम लागत में अधिक उपज देने के लिए जानी जाती है।