बस एक बार करे इस पेड़ की खेती, और सालो-साल कमाए पैसा ही पैसा, जाने कैसे करे खेती

By Shweta Gawande

Published on:

Follow Us
बस एक बार करे इस पेड़ की खेती, और सालो-साल कमाए पैसा ही पैसा, जाने कैसे करे खेती

आपकी जानकारी के लिए बता दे कीआज के समय में हर किसान पारम्परिक खेती छोड़ कर व्यवसायिक खेती की और अग्रसर हो रहे है। यदि आप भी ऐसे ही खेती करने के बारे में सोच रहे है तो आप सुपारी की खेती बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। अगर हम सुपारी की खेती के बारे में बात करें तो भारत इस मामले में दुनिया में पहले नंबर पर है. दुनिया भर में लगभग 50 फीसदी सुपारी उत्पादन सिर्फ भारत में ही होता है। आपको बता दे की ज्यादातर उपयोग पान, गुटखा मसाले में अधिक मात्रा में किया जाता है, लेकिन इसके साथ ही घरों में होने वाले धार्मिक कार्यक्रमों में भी सुपारी का इस्तेमाल होता है। तो आइये जानते हैं कैसे की जाती है सुपारी की खेती और इससे आपको कितना फायदा हो सकता है।

यह भी पढ़े – हसीनाओं को लुभाने आया Realme का धांसू स्मार्टफोन, अमेजिंग कैमरा क्वालिटी और 5000mAh बैटरी के साथ देखे कीमत

ऐसे करे सुपारी की खेती

यदि आप भी उसकी खेती करने के बारे में प्लान कर रहे है तो आपको बता दे की सुपारी का पेड़ दिखने में नारियल के पेड़ के तरह ही दिखता है। इसके आलावा इसकी लंबाई लगभग 50-60 फुट तक हो सकती है. सुपारी के पेड़ पर 5-8 साल में फल देना शुरू कर देता हैं। इसकी सबसे अच्छी बात ये है कि इसकी खेती में एक बार पेड़ लगा देने के बाद आप 70 साल तक फल देते रहता हैं. और भारत में इसकी खेती केरल, असम, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में खूब होती है. सुपारी की खेती को भू-मध्य रेखा के 28 डिग्री उत्तर की ओर करना और 28 डिग्री दक्षिणी क्षेत्रों में करना सबसे सही माना जाता है।

सुपारी की खेती करने से पहले इन बातो का जरूर रखे ध्यान

आपकी जानकारी के लिए बता दे की सुपारी की खेती करने पर समय-समय पर पौधे में खाद और सिचाई करना जरुरी होता है। और ध्यान रहे की पौधे में किसी भी तरह के कीड़े नहीं लगना चाहिए इसके लिए समय-समय पर कीटनाशक स्प्रे का छिड़काव करते रहना होता है। इसके लिए आप बेकिंग सोडा नींबू का रस का उपयोग भी कीड़ो को कम कर सकते में कारगर साबित हो सकता हैं। इसके आलावा जब तक सुपारी का बीज लगभग 3-4 इंच बड़ा नहीं होता उसे तेज धूप से दूर जरुरी होता है। लेकिन सर्दियों में कुछ समय के लिए धूप में रख सकते हैं।लगभग दस से बारह महीने में पौधे से सुपारी का फल निकलने लगता है। इसे आप पूजा-पाठ आदि कामों में इसे इस्तेमाल कर सकते हैं।सुपारी बीज के लिए जिस मिट्टी का इस्तेमाल करने वाले हैं उसे फोड़कर 1-2 दिन के लिए धूप लगना चाहिए। जिससे की मिट्टी में उपस्थित नमी दूर हो जाती है। इसके अलावा मिट्टी में मौजूद कीड़े भी भाग जाते हैं और जंगली घास भी मर जाते हैं।अगले दिन मिट्टी में खाद को डाल दे। जिससे की सुपारी के पेड़ो की उपज अच्छी होगी।

यह भी पढ़े – Creta की बादशाहत ख़त्म कर देंगी Nissan की धाकड़ SUV, लक्ज़री फीचर्स और पॉवरफुल इंजन के साथ जाने कीमत

ऐसे करे सुपारी की खेती के लिए खेत की तैयारी

आपकी जानकारी के लिए बता दे की इसकी खेती के लिए खेत का पीएच लगभग 7-8 सबसे उपयुक्त होता है। इसकी खेती के लिए भुरभुरी मिट्टी उचित मानी जाती है. इसके लिए आपको खेत की रोटावेटर से जुताई कर लेना चाहिए। सुपारी के पौधों को करीब ढाई मीटर की दूरी पर लगाना चाहिए। इसके लिए आपको पहले सुपारी के बीज से नर्सरी बनानी होती है, और उसके बाद पौधों की रोपाई करनी होती है. इसकी नर्सरी करीब 12-18 महीने में तैयार हो जाता है. जिन गड्ढों में सुपारी के पौधों की रोपाई की जाती है, उनमें पहले सड़ी गोबर की खाद या कंपोस्ट खाद जरूर डालना चाहिए. सुपारी के पौधों की रोपाई के लिए जून-जुलाई का समय सबसे सही माना जाता है।

सुपारी की खेती से कितनी होगी कमाई

यदि हम सुपारी की खेती में होने वाले कमाई के बारे में बताये तो आपको बता दे की सुपारी के पेड़ लगभग 6-7 साल में फल देने शुरू कर देते हैं. इसके बाद आप लगातार सुपारी की हार्वेस्टिंग करते रह सकते हैं. बाजार में सुपारी की कीमत 500-600 रुपये प्रति किलो तक बिकता है. ऐसे में अगर सिर्फ एक एकड़ में भी किसान सुपारी की खेती कर लाखों की कमाई कर सकते है।