काले गेहूं की नई किस्म की खेती से किसानो को होगी अच्छी पैदावार, किसानो के लिए नई वेरायटी के गेहूं की जानकारी

0
644
kale gehu ki nayi kismo ke kheti

kale gehu ki nayi kismo ke kheti: नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का हमारे इस लेख में, नमस्कार , आज के हमारे इस आर्टिकल में आप सभी पाठकों का स्वागत है हम आशा करते हैं कि आप आपका समस्त परिवार आपके सभी सगे संबंधी तथा मित्र सकुशल प्रसन्नता स्वस्थ होंगे। 

काले गेहूं की नई किस्म की खेती Cultivation of new variety of black wheat

आज का हमारे आर्टिकल बहुत ज्यादा खास होने वाला है क्योंकि आर्टिकल के माध्यम से हम आप सभी पाठकों के साथ एक ऐसा बिजनेस आइडिया शेयर करने वाले हैं इसे जानने के पश्चात आपको एक समय के लिए ऐसा अवश्य ही लगेगा कि आपको साथी ट्राई करना चाहिए। आपकी उत्सुकता पर विराम लगाते हुए चले प्रारंभ करते हैं आज के हमारे आर्टिकल जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर क्या है बिजनेस आइडिया जो आपको अच्छी खासी कमाई प्रदान कर सकता है। 

black whear pic 1

किसानों का योगदान Farmers’ Contribution

इस बात से तो सभी भलीभांति परिचित है कि हमारे देश में किसानों का बहुत ही अधिक सम्मान किया जाता है। क्योंकि एक और जहां वे मेहनत मजदूरी करके अपने खेतों के माध्यम से अन्न को उपजाते हैं वहीं दूसरी और उन्हें अन्ना का सेवन करके हम अपना जीवन यापन करते हैं। 

हमारे देश में किसानों का पालन हारा भी कहा जाता है। तो क्योंकी मेहनत का परिणाम है कि आज हम घर बैठे बैठे केवल कुछ रुपयों का भुगतान करके भोजन हेतु अन्य प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि यह बात अलग है कि इनका जीवन संघर्ष में है और इसके सुधार हेतु सरकार बहुत ही अधिक क्रियाशील है तथा बहुत सी योजनाएं जा

image 1221

वाणिज्य फसलों से होगा फायदा Commercial crops will benefit

आप पाठक इस बात को अवश्य ही जानते होंगे कि फसलों को दो उद्देश्य से उगाया जाता है किसान सर्वप्रथम अपने परिवार के पालन पोषण हेतु अन्न को उपजाते तथा अपने परिवार की आवश्यकता अनुसार ही खेती करते हैं। यह दूसरे तरीके की बात की जाए तो किसानों के द्वारा मुनाफा  प्राप्ति हेतु भी कृषि की जाती है। इसमें किसान उन फसलों को उत्पादित करते हैं|

जिनकी आवश्यकता बाजार में होती है और उन्हें बेच करके वे अपने वर्षभर का खर्च निकालने का प्रयास करते हैं। किसानों के द्वारा मुख्य रूप से दो फसलों का उपजाया जाता है सर्वप्रथम तो जिनका मुख्य उद्देश परिवारों का ही पालन पोषण होता है तथा दूसरे और वे वाणिज्यिक फसलों को भी उपजाया जाता हैं जिसका मुख्य उद्देश्य फसल से मुनाफा प्राप्त करना होता है। 

image 1220

खेती की तकनीकों में परिवर्तन change in farming techniques

जैसा कि आप सब पाठक जानते हैं कि आज का युग आधुनिकता का योग कहलाता है और ऐसे आधुनिकता भरे युग में जहां सब कुछ आधुनिक हो चुका है वहां भरा खेती पीछे क्यों रह जाए। कहने का तात्पर्य है कि जहां पहले किसानों के द्वारा कड़ी मेहनत करके बड़ी-बड़ी जमीनों के माध्यम से केवल थोड़ा सा अन्य उस जाया जाता था वहीं इन दिनों आधुनिकीकरण के परिणाम स्वरूप खाद्य तथा रसद की उपलब्धता के कारण कम जमीन में भी अधिक अनाज उप जाया जा सकता है। 

इसका सर्वाधिक लाभ किसानों को पड़ा है जहां वह पहले हल से खेतों की जुताई करते थे इत्यादि की सहायता से खेतों की जुताई करते हैं जिससे कम से कम मेहनत में वह अपने खेत को जोत देते हैं। इसके साथ ही रासायनिक उर्वरक तथा खाद्य से फसल की पैदावार में भी बहुत ही अधिक वृद्धि आई है। इसका सर्वप्रथम तथा अप्रत्यक्ष लाभ हमारे देश के महान किसानों को मिला है। 

black wheat farming 1

उगाए यह फसल और करे कमाई हजारों में Grow this crop and earn in thousands

यदि आप भी कृषि क्षेत्रों से संबंधित है तो आपके लिए एक सुनहरा अवसर हमेशा आर्टिकल के माध्यम से लेकर आए हैं। आज का हमारे आर्टिकल बहुत ही ज्यादा खास होने वाला है क्योंकि इस आर्टिकल के माध्यम से हम आप सभी पाठकों के साथ एक ऐसे फसल के विषय में विवरण साझा करने वाले हैं जिससे आपको अच्छी खासी रकम प्राप्त हो सकती है। 

हम आपको बता दें कि इस आधुनिकता के युग में जहां सब कुछ आधुनिक हो चुका है और खेती भी लगभग आधुनिक हो ही चुकी है में एक ऐसे फसल को गाना लाभकारी माना जा सकता है जिसकी मांग बाजारों में सर्वाधिक है। यदि आप सोच रहे हैं कि चावल गेहूं या फिर तिलहन जैसी कोई फसलें तो ऐसा नहीं है। यदि आप चाहे तो काले गेहूं की खेती करके अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। आपको बता काले गेहूं की खेती से जो लाभ प्राप्त होता है उसको देखकर किसानों का रुझान इसकी और बढ़ रहा है। 

black wheat farming detail

जाने क्या है मूल्य know what the price

आप काले गेहूं की खेती करते हैं तो इसका मूल्य मार्केट में ₹8000 प्रति क्विंटल है। जो कि साधारण गेहूं की तुलना में 4 गुना अधिक है। आपको बता देंगे साधारण गेहूं का मूल्य बाजार में ₹2000 प्रति क्विंटल है। 

यदि आप काले गेहूं की खेती करते हैं तो वह रवि के मौसम में की जाती है इसके साथ ही इसकी बुवाई कैसे बात की जाती है नवंबर के महीने में सर्वोत्तम मानी जाती है। इसके वास्ते नवमी भरपूर मात्रा में चाहिए होती है नवंबर के पश्चात काले गेहूं की बुवाई करने पर पैदावार में थोड़ी सी कमी आ जाती है। काले गेहूं की खेती में जिंक तथा यूरिया डालकर आवश्यकताओं को पूर्ण किया जा सकता है। एक बीघे में 1000 से लेकर के 1200 तक काले गेहूं का उत्पादन किया जा सकता है। 

को बनाया आत्मनिर्भर 3 4 1

काले गेहूं की फसल से जुड़ी कुछ जरूरी बातें Some important things related to black wheat crop

यदि इसके फायदे की बात की जाए तो इसका फायदा कैंसर डायबिटीज मानसिक तनाव घुटने का दर्द एनीमिया जैसे रोगों में मिलता है। इसमें तो एंथोसाइनीन पिगमेंट की मात्रा भरपूर होती है इसके कारण या काला दिखाई देता है। काले गेहूं की बात करें तो  इसमें एंथोसाइनीन की मात्रा केवल 5 से लेकर के 15 पीपीएम होती है। काले गेहूं में स्कीमाता 40 से लेकर के 140 पीपीएम होती है। 

Black Wheat

इस प्रकार सहायक है यह Thus it is helpful

काले गेहूं मे क नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट तथा एंटीबायोटिक एंथ्रोसाइनीन भरपूर मात्रा में होता है। काले गेहूं में बहुत से पोषक तत्व पाए जाते हैं इसके साथ ही इसमें आयरन भरपूर मात्रा में होता है इस वजह से यह कैंसर ब्लड प्रेशर मोटापा शुगर जैसी बीमारियों में सहायक सिद्ध होता है। 

business idea