Tuesday, February 7, 2023
Homeधर्म- विशेषJyotish Shastra: नए वर्ष में गणेश जी के ये उपाय करने से...

Jyotish Shastra: नए वर्ष में गणेश जी के ये उपाय करने से दूर होंगी आर्थिक परेशानी, घर में होगी धन संपदा की वर्षा

Jyotish Shastra: हिंदू धर्म में कोई भी शुभ और मांगलिक कार्य करने से पहले गणेश जी का नाम लिया जाता है और गणेश पूजन की जाती है। 24 घंटे बाद हम नए साल में प्रवेश कर जाएंगे। आपने अक्सर सुना होगा की हैं कि अगर साल का पहला दिन अच्छा गुजरता है। तो व्यक्ति का पूरा साल खुशियों के साथ गुजरता है। ऐसे में नए साल की शुरुआत हर कोई अच्छे तरीके से करना चाहता है। धार्मिक कथा और पुजारियों के अनुसार नए साल की शुरुआत गणेश पूजन करना लाभदायी रहता है। गणेश जी की पूजा से किसी भी काम की शुरुआत करने से उस कार्य में कोई भी विघ्न और बाधा नहीं आती है।

यह भी पढ़े :- Ghee Ke Totke : घी के कुछ उपाय जीवन में खुशहाली ला सकते जानिए इन उपायों और टोटके के बारे

ऐसे में नए साल के पहले दिन गणेश जी की पूजा करने और उनके शक्तिशाली मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति को 365 दिन किसी भी तरह की कोई समस्या नहीं सताती है। साथ ही व्यक्ति का जीवन कष्ट मुक्त होता है। हिन्दू धर्म के अनुसार नए साल के दिन लोगो को गणेश जी के साथ साथ बाकि सभी भगवान को भी पूजना चाहिए। लोगो को भगवान के मंत्र का जाप करना चाहिए साथ ही धार्मिक कार्य पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। नए साल में सभी लोगो को भगवन की वंदना करनी चाहिए।

यह भी पढ़े :- Supari Ke Upay : वास्तु शास्त्र के अनुसार सुपारी के अचूक और कारगर उपाय जानिए इसके लाभ

Jyotish Shastra: नए वर्ष में गणेश जी के ये उपाय करने से दूर होंगी आर्थिक परेशानी, घर में होगी धन संपदा की वर्षा

Ganesh ji Aarti bhagwanApp

गणेश जी के कुछ मंत्र जो आपको लाभ पहुँचायेंगे

1. ॐ एकदन्ताय विद्महे वक्रतुंडाय धीमहि तन्नो बुदि्ध प्रचोदयात।।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 21 दिन तक नियमित रूप से भगवान श्री गणेश के इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति को पिछले कर्मों के बुरे फलों से छुटकारा मिलता है। इस मंत्र का जाप व्यक्ति को कम से कम 108 बार अवश्य करना चाहिए। इससे व्यक्ति को भाग्य का साथ मिलता है। इस जाप से व्यक्ति का जीवन सफल हो जाता है। यह मंत्र बहुत ही फायदेमंद होता हैं।

2. ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरू गणेश।
ग्लौम गणपति, ऋदि्ध पति, सिदि्ध पति। मेरे कर दूर क्लेश।।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नियमित रूप से लगातार 21 दिन सुबह महादेव जी, पार्वती जी और गणेश जी की पूजा करने के बाद इस मंत्र के जाप को बहुत लाभदायी बताया गया है। कहते हैं कि कम से कम 108 बार इस मंत्र का जाप व्यक्ति के सभी दुख खत्म करता है। इस मंत्र का जाप करते समय सात्विकता का खास ख्याल रखें। यह मंत्र बहुत शक्तिशाली और लाभदायी होता है। इस मंत्र में महादेव का पूरा परिवार का जाप होता है।

3. ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अगर कोई जातक कर्ज में डूबा होता है, तो गणेश जी की पूजा के बाद इस मंत्र का जाप व्यक्ति की आर्थिक समस्याओं को दूर करता है। इतना ही नहीं व्यक्ति के धन के नए स्त्रोत भी खुलते जाते हैं। इस मंत्र से कुबेर देव भी प्रसन्न रहते है। यह मंत्र धन की प्राप्ति करवाता है।

4. ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरु गणेश

ग्लौम गणपति, ऋद्धि पति, सिद्धि पति,, करो दूर क्लेश

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस मंत्र का नियमित जाप करने से व्यक्ति के घर के कलेश दूर होते है। इस मंत्र के जाप से व्यक्ति के घर में सुख शांति बनी रहती है। इस मंत्र जप से गणेश जी बहुत प्रसन्न रहते है।

5. ऊं एकदन्ताय विद्महे वक्रतुंडाय धीमहि तन्नो बुदि्ध प्रचोदयात

इस मंत्र का जाप करने से गणेश जी बहुत प्रसन्न रहते है। इस मंत्र के जप से व्यक्ति के जीवन से विघ्न और बाधा दूर रहती है। इस मंत्र के जाप से व्यक्ति के जीवन में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होती है।

6. गणपतिर्विघ्नराजो लम्बतुण्डो गजाननः। द्वैमातुरश्च हेरम्ब एकदन्तो गणाधिपः॥

माना जाता है कि किसी भी तरह की इच्छापूर्ति के लिए इस मंत्र का जाप विशेष फलदायी है। इससे व्यक्ति को सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। इस मंत्र के जाप से व्यक्ति की कोई भी इच्छा पूरी हो जाती है। इस मंत्र के जाप के साथ भगवान की वंदना भी करनी चाहिए।

7. ॐ श्रीं गं सौभाग्य गणपतये। वर्वर्द सर्वजन्म में वषमान्य नम:।।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस मंत्र का जाप विद्यार्थी को जरूर करना चाहिए यह बहुत ही लाभदायक मंत्र है। यदि किसी विद्यार्थी को परीक्षा में सफलता नहीं मिल रही हो तो उस विद्यार्थी को इस मंत्र का जाप जरूर करना चाहिए। यह मंत्र करियर में सफल बनता है।

इस प्रकार ही व्यक्ति को नए साल में सभी देवी देवता की वंदना करनी चाहिए। भगवान की पूजा पाठ व्यक्ति को जीवन में सफल बनाती है। व्यक्ति को धर्म के काम से हमेशा जुड़े रहना चाहिए। गणेश जी के साथ सभी देवी देवता को पूजना चाहिए। निरन्तर मंत्र जाप करना चाहिए।

RELATED ARTICLES

Most Popular