अपने पैसो को इन्वेस्ट करना चाहते है, तो जान लीजिये SBI vs Post Office RD में से कौन है बेहतर

By सचिन

Published on:

SBI vs Post Office RD

SBI vs Post Office RD: यदि आप आपने पैसो को इन्वेस्ट करना चाहते है तो आपको बता दें की इसके लिए रेकरिंग डिपॉजिट जिसे आरडी भी कहा जाता है वह सबसे अच्छे ऑप्शंस में से एक है क्योकि आरडी में आपको हर महीने सिर्फ तय रकम को ही जमा करना पड़ता हैं और इसके बदले में आपकी जमा राशि पर आपको एक निश्चित ब्याज दिया जाता है और भारत में लगभग सभी सरकारी और प्राइवेट बैंकों के साथ पोस्ट ऑफिस की तरफ से भी आरडी की सुविधा दी जा रही है इसीलिए आज हम भारत के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और पोस्ट ऑफिस की तरफ से आने वाली आरडी स्कीम के बारे में जानकारी देंगी।

यह भी पढ़े – Business idea: ये है एक ऐसा बिज़नेस जिसे कर सकते है कम लागत से शुरू, इससे कर सकते है लाखों की कमाई

जानिए SBI की RD स्कीम के बारे में

SBI vs Post Office RD

SBI अपने ग्राहकों को 1 साल से लेकर 10 साल तक की अवधि के लिए आरडी की सुविधा दे रही है और वर्तमान समय में यह आम जनता को 6.5 से लेकर 7 प्रतिशत और बुजुर्गों को 7 प्रतिशत से लेकर 7.5 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज दे रहा है और आपको बता दें की यह ब्याज 15 फरवरी 2023 से प्रभावी हैं और SBI अपने ग्राहकों को 1 साल से लेकर 2 साल से कम वक्त में आम नागरिकों को 6.80 प्रतिशत और सीनियर सिटीजन्स को 7.30 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज मिलेगा|

यह भी पढ़े – चंद्रयान-3 की वजह से इस Share में आयी 18% की तेजी, विदेशी इन्वेस्टर्स बड़ा रहे है इसमें हिस्सेदारी

वहीं 2 साल से लेकर 3 साल से कम की अवधि के लिए यह आम नागरिकों को 7 प्रतिशत और बुजुर्गों को 7.50 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज दे रहा है और वहीं 3 साल से लेकर 5 साल तक के वक्त के लिए यह 6.50 प्रतिशत और बुजुर्गों को 7 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज का फायदा दे रहा है और वही आपको बता दें की 5 साल से 10 साल तक की एफडी पर एसबीआई आम नागरिकों को 6.50 प्रतिशत ब्याज दे रहा है और बुजुर्गों को 7.50 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज देता है।

जानिए पोस्ट ऑफिस की RD स्कीम के बार में

SBI vs Post Office RD

आपको बता दें की पोस्ट ऑफिस की RD स्कीम 5 साल की मेच्योरिटी पीरियड के साथ आता है और इसमें आपको कम से कम 100 रुपए का निवेश करना होता हैं लेकिन इस स्कीम में सीनियर सिटीजन्स को एक्सट्रा ब्याज का फायदा नहीं दिया जाता है क्योकि पोस्ट ऑफिस की 5 साल की एफडी पर 6.5 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज मिलता है और आपको बता दें की पोस्ट ऑफिस पर दिए जाने वाले ब्याज पर टीडीएस भी कटता है और इस पर 10 प्रतिशत के हिसाब से टीडीएस काटा जाता है इसीलिए पोस्ट ऑफिस की आरडी स्कीम में जमा की जाने वाली राशि 10,000 रुपए से ज्यादा है तो टीडीएस काटा जाता है।

Disclaimer:- इन्वेस्टमेंट करने से पहले किसी एक्सपर्ट की सलाह जरूर ले ले क्योंकि इन्वेस्टमेंट करने में नुकसान होने की संभावना होती है।

सचिन