हेमंत चन्द्र दुबे ने राजनीतिक दलों की लड़ाई से दूर कैंसर की लड़ाई में मांगा जनता का साथ

By दिगम्बर बर्डे

Published on:

Follow Us
हेमंत चन्द्र दुबे ने राजनीतिक दलों की लड़ाई से दूर कैंसर की लड़ाई में मांगा जनता का साथ

बैतूल समाचार: कैंसर जैसी घातक बीमारी से चार साल संघर्ष कर जीतने वाले 50 साल के बबलू दुबे इसके बाद से चैन से नहीं बैठे। उनके मन में कैंसर को जड़ से खत्म करने का एक जुनून है। जहां भी कैंसर पीड़ित कोई मिलता है उसे पहले तो बीमारी से लड़ने का हौसला देते हैं, उसके बाद बीमारी का सही इलाज बताकर उसे राह दिखाते हैं। अब तक बबलू दुबे आठ सैकड़ा कैंसर पीड़ितों की मदद कर चुके हैं। अब उन्होंने लोकतंत्र में रहकर वोट के माध्यम से कैंसर से जंग लड़ने का आव्हान किया है।

यह भी पढ़े:- भीमसेना ने पटवारी संघ की 5 सूत्रीय मांगों को दिया समर्थन, जिले भर के पटवारी कर रहे प्रर्दशन

उनकी जंग में पूरा बैतूल उनके साथ खड़ा हुआ है, अब लोकतंत्र के महापर्व में उन्होंने कैंसर के खिलाफ वोट के जरिए लड़ाई लड़ने का बिगूल फूंक दिया है। बबलू दुबे का मानना है कि सरकार आती है जाती है और सभी विकास के नाम पर कैंसर को बढ़ाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि कैंसर जैसी घातक बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए लोकतंत्र के इस महापर्व में भी अभियान चलाएंगे। लेकिन इतने सालों में भी जनता नोटा के प्रति जागरूक नहीं हो पाई है, यही कारण है कि राजनीतिक पार्टियां मानवता के हितों को अनदेखा कर रही है। उन्हें नोटा की ताकत से अवगत कराने के उद्देश्य से वे जिले प्रदेश ही नहीं बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर अभियान चलाएंगे।