Guruwar Puja: बृहस्पति को भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करने से घर में धन-धान्य की कमी नहीं होगी

0
73
Guruwar Puja: बृहस्पति को भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करने से घर में धन-धान्य की कमी नहीं होगी

Guruwar Puja, thursday worship : वैसे तो गुरुवार का दिन भगवान विष्णु की पूजा के लिए महत्वपूर्ण होता है लेकिन घर में सुख-संपदा और धन वैभव के लिए भगवान विष्णु के साथ इस दिन मां लक्ष्मी की भी पूजा जरूर करें। मां लक्ष्मी भगवान विष्णु की पत्नी हैं। साथ ही मां लक्ष्मी को शास्त्रों में धन-वैभव की देवी भी कहा गया है।

vishnu laxmi jpg 1200x630xt

Guruwar Puja Bhagvan Vishnu Maa Lakshmi Puja Vidhi : भारतीय ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गुरुवार का दिन भगवान विष्णु (गुरु बृहस्पति देव) से संबंधित है।भगवान विष्णु को प्रसन्न कर उनका आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए गुरुवार का दिन उत्तम माना जाता है, क्योंकि इस दिन किए गए पूजा-पाठ से भगवान शीघ्र प्रसन्न होते हैं। गुरुवार के दिन भगवान विष्णु के साथ मां लक्ष्मी की भी पूजा करनी चाहिए। मां लक्ष्मी को शास्त्रों में धन-वैभव की देवी भी कहा गया है। ऐसे में गुरुवार के दिन मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा करने के आशीर्वाद प्राप्त होता है और व्यक्ति की हर मनोकामना पूरी होती है। आइये जानते हैं गुरुवार के दिन पूजा कैसे करें।

Guruwar Puja: बृहस्पति को भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करने से घर में धन-धान्य की कमी नहीं होगी

यह भी पढ़े:- शादी में आ रही है कई अड़चने, बहुत कोशिशों के बाद भी नहीं हो पा रही है शादी,तो करे ये अचूक उपाय Tulsi Remedies

images 6 1

गुरुवार को भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा विधि

गुरुवार के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नानादि कर साफ कपड़े पहन लें। इस दिन पीले रंग के कपड़े पहनना शुभ माना जाता है, क्योंकि यह रंग भगवान विष्णु को अत्यंत प्रिय है। इसके बाद मंदिर में दीपक जलाएं और हाथ जोड़कर व्रत और पूजन का संकल्प लें। कुछ लोग प्रत्येक गुरुवार व्रत रखते हैं तो वहीं कुछ लोग पूजा-पाठ करते हैं। हो सके तो पूरा दिन ओम भगवते वासुदेवाय नम: मंत्र का जाप करे।

पूजा के लिए एक चौकी पर मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की मूर्ति या तस्वीर स्थापित करें। अब गंगाजल से अभिषेक करें और भगवान विष्णु को पंचामृत से स्नान कराएं। भगवान को रोली, अक्षत, चंदन, धूप, गंध, दीप, पीले फूल, पीले फल और मिठाई का भोग लगाएं। भगवान को चने की दाल और गुड़ का भोग गुरुवार के दिन जरूर अर्पित करें। साथ ही तुलसी दल भी चढ़ाएं। तुलसी दल के बिना भगवान विष्णु की कोई भी पूजा अधूरी मानी जाती है।

Guruwar Puja: बृहस्पति को भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करने से घर में धन-धान्य की कमी नहीं होगी

यह भी पढ़े:- वृश्चिक राशि में प्रवेश कर सूर्य इन राशि वालों के लिए होगा शुभ, करियर और बिजनेस में फायदा Surya Gochar

मां लक्ष्मी को सिंदूर और चंदन का तिलक लगाएं और लाल फूल, अक्षत, धूप, दीप, फल, सुपारी , भोग अर्पित करें। गुरुवार के दिन विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना उत्तम होता है। यदि आप गुरुवार व्रत कर रहे हैं तो गुरुवार की व्रत कथा जरूर पढ़ें या सुनें। आखिर में भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी जी की आरती करें।

गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा के बाद केले के पौधे की भी पूजा जरूर करें। केले के पौधे में जल चढ़ाएं और फूल-भोग अर्पित कर घी का दीपक जलाएं। इस विधि-विधान से पूजा करने पर भगवान विष्णु प्रसन्न होंगे और मां लक्ष्मी की कृपा भी प्राप्त होगी।

Guruwar Puja: बृहस्पति को भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करने से घर में धन-धान्य की कमी नहीं होगी