Guava Leaves: इन तीन लोगों को कभी नहीं खाना चाहिए अमरूद, नहीं तो पड़ जायेगे मुश्किल में, जानिए ?

0
205
Guava Leaves

Amarood Ke Patte: अमरूद एक अविश्वसनीय रूप से स्वादिष्ट और पौष्टिक फल है. लो कैलोरी और फाइबर से भरपूर यह एक हेल्दी डाइट (Healthy Diet) के लिए एक बेहतरीन स्नैक्स है. फलों को कई तरह से लिया जा सकता है- कच्चा लें, तीखी चटनी बनाएं, मीठा जैम बनाएं या पकाएं, यह सब स्वादिष्ट लगेगा. फल ही नहीं अमरूद के पत्ते (Guava Leaves) भी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं.

अध्ययनों से पता चलता है कि अमरूद के पत्तों के अर्क को डाइट में शामिल करने से आपके हृदय स्वास्थ्य (heart Health), पाचन और इम्यून सिस्टम (Immune Systme) को बढ़ावा मिल सकता है, लेकिन इस फल में कुछ ऐसे यौगिक होते हैं, जो सभी के लिए अच्छे नहीं माने जाते हैं. खासकर उन लोगों के लिए जो कुछ स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित हैं. अमरूद खाने के नुकसान (Harm Of Eating Guava) भी हैं अगर आप नहीं जानते हैं कि आपके लिए अमरूद हेल्दी है या नहीं तो यहां इस लेख में बताया गया है.

अमरूद में मौजूद पोषक तत्व (Nutrients In Guava)

यह भी पढ़ें

अमरूद एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन सी और पोटेशियम से भरपूर होते हैं. अमरूद में कैलोरी, कार्बोहाइड्रेट होता है. इसके साथ ही इस शानदार फल में फाइबर, वसा और प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है

हलाकि कि यह फल डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए भी फायदेमंद है क्योंकि इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है. इसके अलावा, फोलेट और बीटा कैरोटीन कुछ अन्य पोषक तत्व हैं जो इस फल में प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं. यहां कुछ लोग हैं जिन्हें अमरूद का सेवन करते समय सावधान रहना चाहिए.

किन लोगों को नहीं खाना चाहिए अमरूद? | Who Should Not Eat Guava?

1) जो लोग सूजन से पीड़ित हैं

अमरूद विटामिन सी और फ्रुक्टोज से भरपूर होता है. दोनों में से किसी की भी उच्च खुराक आपको फूला हुआ महसूस करा सकती है. पानी में घुलनशील विटामिन होने के कारण हमारे शरीर को बहुत अधिक विटामिन सी को अवशोषित करने में कठिनाई होती है, इसलिए ओवरलोडिंग अक्सर सूजन को ट्रिगर करता है. इसमें नेचुरल शुगर शरीर द्वारा अवशोषित नहीं होती, बल्कि हमारे पेट में बैठ जाती है जिससे ब्लोटिंग हो जाती है. यहां तक कि अमरूद खाने और तुरंत सो जाने से भी सूजन हो सकती है.

2) इरिटेटेड बाउल सिंड्रोम से पीड़ित लोग

अमरूद फाइबर से भरपूर होता है, जो कब्ज को कम करने और पाचन को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है, लेकिन अमरूद का अधिक सेवन आपके पाचन तंत्र को खराब कर सकता है. खासकर अगर आप इरिटेटेड बाउल सिंड्रोम से पीड़ित हैं. इसलिए जरूरी है कि सीमित मात्रा में ही खाएं.

3) डायबिटी से पीड़ित होने पर

लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स के कारण डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए अमरूद पसंदीदा फलों में से एक है. हालांकि, अगर आप अपने आहार में इस फल को शामिल कर रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप अपने ब्लड शुगर लेवल को रेगुलर ट्रैक करें. बहुत अधिक अमरूद खाने से ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है.

कितनी मात्रा में खाना सेफ है?

एक दिन में अमरूद की एक सर्विंग खपत के लिए सुरक्षित है. इससे अधिक लेना शायद अच्छा विचार न हो. आप अपने शरीर को फ्यूल भरने के लिए दो भोजन के बीच, या वर्कआउट से पहले या बाद में फल खा सकते हैं. रात में फल खाने से बचें क्योंकि इससे सर्दी और खांसी हो सकती है.