Ganga Dussehra: पापों का नाश करने वाला पर्व गंगा दशहरा पर लगाए यह भोग, जानिए

By charpesuraj4@gmail.com

Published on:

Follow Us

हिंदू धर्म में गंगा दशहरा का विशेष महत्व है (Ganga Dussehra ka vishesh mahatva hai). इस साल ये पवित्र (pavitra) त्योहार (tyohar) 16 जून 2024, रविवार को मनाया जाएगा (manaya jaega). मान्यता है कि इसी दिन माता गंगा धरती पर अवतरित हुई थीं (Maa Ganga Dharti par avtarit hui thiin). गंगा दशहरा के दिन मां गंगा की पूजा करने से जीवन के सभी दुख दूर हो जाते हैं (jeevan ke sabhi dukh door ho jaate hain).

यह भी पढ़े- Astrology Tips: जून में बदल रहे बड़े ग्रहों का राशि, इन 3 राशियों पर चमकेगी किस्मत

पौराणिक कथा (Pauranik Katha)

पौराणिक कथा के अनुसार, इस दिन महाराजा भगीरथ के पूर्वजों को मोक्ष की प्राप्ति कराने के लिए माता गंगा स्वर्ग से धरती पर आई थीं (Maata Ganga Swarg se Dharti par aayi thiin). ऐसा माना जाता है कि जीवनदायिनी मां गंगा की पूजा करने से सभी पापों का नाश हो जाता है (sabhi paapon ka naash ho जाता है). इसके साथ ही रोग और दोषों से भी मुक्ति मिलती है (rog aur doshon se bhi mukti milti hai).

भगवान शिव की पूजा का महत्व (Bhagwan Shiv ki Puja ka Mahatva)

गंगा दशहरा के दिन भगवान शिव की पूजा का भी विशेष महत्व है (Ganga Dussehra ke din Bhagwan Shiv ki puja ka bhi vishesh mahatva hai). ऐसा इसलिए क्योंकि मां गंगा उनके जटाजूट में विराजमान हैं (koyi isliye ki Maa Ganga unke Jatajut mein Virajmaan hain). आइए जानते हैं कि भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए आप इस तिथि पर क्या चढ़ा सकते हैं (bholenath ko prasann karne ke liye aap is tithi par kya chadha sakte hain).

भोग सामग्री (Bhog Samagri)

  • गुड़ (Gud): गंगा दशहरा के दिन गुड़ चढ़ाना शुभ माना जाता है (Gangaur Dashmi ke din Gud chadhna shubh mana jata hai). इसे मंगल ग्रह का कारक माना जाता है (ise Mangal Grah ka Karak mana jata hai). कहते हैं कि महादेव को गुड़ चढ़ाने से जीवन की कठिनाइयां दूर होती हैं (kahate hain ki Mahadev ko Gud chadhane se jeevan ki kathinaiyaan door hoti hain). साथ ही घरेलू कलह-क्लेश दूर होते हैं (saath hi gharelu kalah-klesh door hote hain). इसके साथ ही कुंडली से अशुभ ग्रहों का प्रभाव खत्म हो जाता है (saath hi kundli se ashubh grahon ka prabhav khatam ho जाता hai).
  • सफेद मिठाई (Safed Mithai): गंगा दशहरा पर भगवान शिव को सफेद मिठाई चढ़ाना बहुत ही शुभ माना जाता है (Ganga Dussehra par Bhagwan Shiv ko safed mithai chadhna bahut hi shubh mana jata hai). ये भोग उन्हें बहुत प्रिय होता है (ye bhog unhe bahut priya hota hai). ऐसा कहा जाता है कि भोलेनाथ को सफेद मिठाई चढ़ाने से जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है (Bholenath ko safed mithai chadhane se jeevan mein sankaratmak urja ka sanchar hota hai). साथ ही घर में सुख-शांति बनी रहती है (saath hi ghar mein sukh-shanti bani rahti hai).
  • शहद (Shahed): गंगा दशहरा के दिन भगवान शिव को शहद भी चढ़ाना चाहिए (Ganga Dussehra ke din Bhagwan Shiv ko shahed bhi chadhna chahiye). इससे व्यक्ति का वैवाहिक जीवन सुखी रहता है (is se vyakti ka vaivhik jeevan sukhi रहता hai). साथ ही इससे जुड़ी सभी समस्याएं खत्म हो जाती हैं (saath hi isse judi sabhi samasyaan khatam ho jati hain). अगर आप भोलेनाथ का आ