Monday, January 30, 2023
Homeसरकारी योजनाकिसानो को छोटे कृषि उपकरणों पर 90% तक की मिलेगी सब्सिडी, जानिए...

किसानो को छोटे कृषि उपकरणों पर 90% तक की मिलेगी सब्सिडी, जानिए किन-किन उपकरणों पर है सब्सिडी

किसानो को छोटे कृषि उपकरणों पर 90% तक की मिलेगी सब्सिडी, जानिए किन-किन उपकरणों पर है सब्सिडी, किसानों को वर्तमान समय में आधुनिक कृषि उपकरणों (Agricultural Equipment) से कृषि करने में बड़ी सहूलियत हो रही है। इन कृषि उपकरणों की मदद से किसान कृषि में बुवाई से लेकर कटाई तक के चुनौती पूर्ण कार्य को बेहद कम समय, लागत और श्रम में पूरा कर पा रहे है। जिससे किसानों की कृषि में लागत भी कम हुई और उत्पादन भी बढ़ा है। कृषि में इन कृषि उपकरणों  के बढ़ते योगदान को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारें भी कृषि उपकरणों पर कई तरह की सरकारी योजना के तहत सब्सिडी देती है।

कृषि उपकरणों पर 40%-90% तक की सब्सिडी

केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से खेती के छोटे से लेकर बड़े उपकरणों पर सब्सिडी उपलब्ध करवाने के लिए अपने-अपने स्तर पर विभिन्न प्रकार की योजनाएं चलाई जा रही हैं। जिनके माध्यम से किसानों को अपने-अपने स्तर पर तय प्रवाधानों के मुताबिक कृषि उपकरणों पर तय सब्सिडी उपलब्ध करवाई जा रही है। इसके लिए प्रत्येक राज्य सरकार समय-समय पर किसानों से आवेदन की मांग करती है। सरकार किसानों को इन योजना के माध्यम से 40 से 90 प्रतिशत तक सब्सिडी किसान वर्ग के अनुसार कृषि यंत्रों पर देती है ।

यह भी पढ़े:- कलौंजी की खेती से किसान कम समय में कमा सकते है अच्छा मुनाफा, जानिए कलौंजी की खेती की पूरी प्रोसेस

इन उपकरणों पर मिल रही सब्सिडी

  • अब बाजार में जुताई और बुवाई के छोटे और सस्ते सीड कम सीड कम फर्टिलाईजर ड्रिल मशीनों की रेंज उपलब्ध है। इन्हें किसाना आसानी से खरीद कर खेती में आसानी से बुवाई कर सकते है।
  • फसलों को अंतिम रूप देने के लिए ट्रैक्टर चालित मल्टीक्रॉप थ्रेसर ओसाई पंखा, रीपर, ब्लेड हैरो/ पावर हैरो आदि कृषि उपकरणों (Agricultural Equipment) का इस्तेमाल किया जाता है। 
  • सूक्ष्म सिंचाई योजना के माध्यम से ड्रिप/टपक और फव्वारा सिंचाई पद्धति के लिए सब्सिडी भी दी जा रही है। सोलर पंप से किसान सिंचाई के साथ-साथ अतिरिक्ति आय भी अर्जित कर रहे है। 
  • अब निराई-गुडाई के कार्य में पावर वीडर और पशु चलित कल्टीवेटर का इस्तेमाल किया जा रहा है। बाजार में कई कंपनियों ने छोटे ट्रैक्टर उतारे हुए है। इन ट्रैक्टर की मदद से कल्टीवेटर से निराई-गुड़ाई का कार्य कर सकते है।
RELATED ARTICLES

Most Popular