दोसा जिले में DAP Fertilizer को लेकर किसानो ने मचाया हंगामा कहा DAP की हो रही कालाबाजारी समय पर नहीं मिल रहा DAP

0
126
DAP

DAP Fertilizer: दौसा जिले में भी खाद को लेकर कमोबेश हालात खराब हैं. रबी की फसल बुवाई का दौर जारी है, लेकिन डीएपी खाद नहीं मिलने से किसान परेशान हैं. किसान सुबह से लेकर शाम तक खाद के लिए सहकारी समितियों के यहां चक्कर लगाते हैं.

बाजार में ब्लैक में खाद मिलने की भी किसान शिकायत कर रहे हैं. प्रदेश में इन दिनों रबी की फसल बुवाई का दौर जारी है, लेकिन डीएपी खाद नहीं मिलने से किसान परेशान हैं. दौसा जिले में भी खाद को लेकर कमोबेश हालात खराब हैं. किसान सुबह से लेकर शाम तक खाद के लिए सहकारी समितियों के यहां चक्कर लगाते हैं, लेकिन उन्हें खाद नहीं मिल रहा है.

किसानो को नहीं मिल रहा खाद Farmers are not getting fertilizer

18403 iffco 1

मांग से अधिक केंद्र सरकार ने जिले को खाद दिया, उसके बावजूद भी किसानों को खाद नहीं मिल रहा, यह सीधा-सीधा कालाबाजारी है. समय पर उन्हें खाद नहीं मिला तो वह समय से फसल बुवाई नहीं कर सकेंगे. ऐसे में उनकी फसल अगेती नहीं होकर पछेती होगी, जिसके चलते पैदावार कम होगी. पिछले दिनों केंद्रीय डेयरी और पशुपालन राज्यमंत्री डॉ संजीव बालियान ने भी जिले में खाद की कालाबाजारी के आरोप लगाए थे.

DAP ली भारी किल्लत हुई DAP LI has been in severe shortage

416841 ddd

दौसा जिले में डीएपी खाद की भारी किल्लत है. 15 सितंबर से रबी की फसल बुवाई का समय माना जाता है, लेकिन किसानों को डीएपी खाद नहीं मिलने से फसल बुवाई पर असर हो रहा है. किसान खाद के लिए घंटों तक सहकारी समितियों के आगे लाइन लगाकर खड़े रहते हैं. उसके बावजूद भी उन्हें समय से खाद नहीं मिल रहा, जिसके चलते वह परेशान हैं. वहीं, किसान ब्लैक और कालाबाजारी का भी आरोप लगा रहे हैं. DAP Fertilizer

समय पर नहीं उपलब्ध खाद Fertilizer not available on time

NPK 12 32 16

बालियान ने कहा कि दौसा जिले से 8352 मेट्रिक टन डीएपी खाद की मांग की गई थी, जिसके चलते 10252 मैट्रिक टन खाद केंद्र द्वारा भेजा गया. पिछले दिनों दौसा दौरे पर आए केंद्रीय डेयरी एवं पशुपालन राज्यमंत्री डॉ संजीव बालियान ने भी जिले में केंद्र द्वारा मांग से अधिक खाद सप्लाई की बात दौराई थी. वहीं, 22696 मैट्रिक टन यूरिया खाद की मांग की गई, जिसके विरूद्ध 28595 मैट्रिक टन खाद सप्लाई किया गया. उसके बावजूद भी किसानों को समय पर खाद नहीं मिल रहा. यह दुर्भाग्य है, वही मंत्री बालियान ने आरोप लगाए जिले में खाद की कालाबाजारी की जा रही है और इसमें अधिकारियों और नेताओं की मिलीभगत है. DAP Fertilizer

किसानो की मांग हो खाद की कालाबाजारी बंद Farmers demand that black marketing of fertilizers should stop

iffco 1601308094

किसानों को समय से डीएपी और यूरिया खाद मिले. साथ ही, कालाबाजारी पर अंकुश लगे. प्रदेश में किसानों को समय से डीएपी और यूरिया खाद मिले इसके लिए एक अक्टूबर को मुख्य सचिव उषा शर्मा ने सभी कलेक्टरों को पत्र लिखकर निर्देशित किया है. वहीं, पत्र में यह भी हवाला दिया गया. प्रदेश में 8 लाख पचास हजार मैट्रिक टन यूरिया और 4 लाख चालीस हजार मेट्रिक टन डीएपी के विरुद्ध 8 लाख 29 हजार मैट्रिक टन यूरिया और चार लाख 65 हजार मैट्रिक टन डीएपी की आपूर्ति हो चुकी है. DAP Fertilizer

यह भी पढ़े: Hyundai की कारों ने लूटी महफिल मिल रहा 1 लाख का दिलकश ऑफर जाने इसके धांसू फीचर्स और दमदार माइलेज

खाद से भरी गाड़ी की जप्त और हुई FIR Fertilizer-laden vehicle seized and FIR

urea Dap npk price 2022

साथ ही, बसवा थाना क्षेत्र में खाद से भरी गाड़ी भी जप्त की गई और एफआईआर भी दर्ज करवाई गई. इसके बाद दौसा जिला प्रशासन और कृषि विभाग हरकत में आया, जहां खाद को लेकर अनियमितता के मामले में जिलेभर में आधा दर्जन खाद विक्रेताओं के खिलाफ कार्रवाई की गई, तो वही लाइसेंस भी निलंबित किए गए. DAP Fertilizer