Tuesday, February 7, 2023
Homeबिज़नेसगेंदे के फूलों की खेती से कमा रहा किसान लाखों रूपए, खेती...

गेंदे के फूलों की खेती से कमा रहा किसान लाखों रूपए, खेती के जरिये कर रहा बिजनेस….

Flower Business: अपना देश कृषि प्रधान देश है. यह कहानी औरंगाबाद के रहने वाले अरविंद ने 400 रुपये प्रति सैकड़ा की दर से कोलकाता से पौधे मंगाए और तीन कट्ठा में खेती शुरू की. उन्होंने फूलों को थोक में बेचने के लिए मदनपुर के घोरहत मोड़ पर दुकान भी खोल रखी है. व्यापारी दुकान पर भी आकर फूल खरीदकर ले जाते हैं. अब उन्हें बढ़िया मुनाफा भी हो रहा है.

गेंदे के फूलों की खेती से कमा रहा किसान लाखों रूपए, खेती के जरिये कर रहा बिजनेस…..

यह भी पढ़े: कम लागत में शुरू करे ये बेस्ट बिजनेस होगा मोटा मुनाफा, सरकार भी करेगी मदद….

बिहार के औरंगाबाद के मदनपुर प्रखंड के महुआवां पंचायत क्षेत्र के अरविंद मालाकार ने गेंदे के फूलों की खेती की शुरुआत तब की जब उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी. परिवार के गुजारे के लिए वह रोजगार की तलाश में थे. इसी दौरान उन्होंने हिम्मत करके फूलों की खेती की शुरुआत की और उनकी मेहनत रंग लाई. हालांकि, शुरुआती दौर में गुजारे लायक आमदनी हुई तो उन्होंने खेती का रकबा बढ़ाया. इससे पैदावार में इजाफा होने के साथ ही आमदनी भी बढ़ी.

फूलों की खेती 1

आर्थिक तौर पर मिली मजबूती (financially strong)

अरविंद को देखकर गांव के अन्य किसानों का भी रुझान अब परंपरागत फसलों के बजाय फूलों की खेती की ओर बढ़ने लगा है. आलम यह है कि अरविंद के खेतों में लहलहाते फूलों की बाजारों में भारी मांग है. यह मांग लगातार बढ़ती ही जा जा रही है. अरविंद आर्थिक रूप से लगातार मजबूत हो रहे हैं. एक समय ऐसा भी था जब अरविंद ने सरकारी मदद की आस लगा रखी थी. इस आस में कोशिश भी की पर मदद नहीं मिलने पर कर्ज लेकर गेंदे के फूल की खेती शुरू की. दशहरा, दीपावली जैसे त्योहारों और शादियों के मौके पर फूलों की बंपर बिक्री से अच्छी बचत हो जाएगी.

Marigold Farming

गेंदे के फूलों की खेती से कमा रहा किसान लाखों रूपए, खेती के जरिये कर रहा बिजनेस…..

पहले करते थे सब्जी की खेती (Earlier used to cultivate vegetables)

Genda Phool Ki Kheti Marigold Flower Farming

इससे पहले अरविंद सब्जी की खेती करते थे. हालांकि, उससे लागत के अनुरूप मुनाफा नहीं हो पाता था. नील गायें सब्जी की फसलों को भी बर्बाद कर देती थीं. इसी वजह से अरविंद ने फूलों की खेती शुरू की. खेती में उनकी पत्नी भी उनका हाथ बंटाती हैं. पति-पत्नी की मेहनत का अब रंग दिख रहा है. एक समय गांव के दूसरे किसान गेंदे के फूल की खेती को लेकर अरविंद का मजाक भी उड़ाया करते थे. अब वही लोग अरविंद की राह पर चलने को तैयार हैं.

गेंदे की खेती से अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं अरविंद (Arvind is earning good profit from marigold cultivation)

अरविंद बताते है कि गेंदे के फूल की खेती की शुरुआत उन्होंने जुलाई महीने में की थी. 400 रुपये प्रति सैकड़ा के दर से कोलकाता से पौधे मंगाए. तीन कट्ठा में खेती शुरू की. उन्होने फूलों को थोक में बेचने के लिए मदनपुर के घोरहत मोड़ पर दुकान भी खोल रखी है. व्यापारी दुकान पर भी आकर फूल खरीदकर ले जाते हैं. अरविंद कहते है कि गेंदे के फूल की खेती कर पढ़े लिखे बेरोजगार युवा भी आत्मनिर्भर हो सकते है. बहुत कम पैसे से इसकी खेती की शुरुआत की जा सकती है और लाखों का मुनाफा कमाया जा सकता है.

Marigold Farming techniques

गेंदे के फूलों की खेती से कमा रहा किसान लाखों रूपए, खेती के जरिये कर रहा बिजनेस…..

यह भी पढ़े: Rabbit Farming: खरगोश पालन से आप कमा सकते है महीने के लाखों, कम इस्वेस्टमेंट में लाखो का मुनाफा….

अरविंद कहते हैं कि बड़ा नौकर बनने से एक छोटा मालिक ही बनना बेहतर है. देश मे हुनर और हुनरमंद लोगों की कमी नहीं है. अपना देश कृषि प्रधान देश है. हमारे देश की माटी में ही सोना उगता है, बस लगन के साथ मेहनत करने की जरूरत है.

RELATED ARTICLES

Most Popular