Desi Jugaad: कोल्हू से तेल निकालने के लिए इस शख्स ने लगाया गजब जुगाड़, अनोखी तरकीब देख उड़े सबके होश, देखे आविष्कार

By Alok

Published on:

Desi jugaad: Desi Jugad: कोल्हू से तेल निकालने के लिए इस शख्स ने लगाया गजब जुगाड़, अनोखी तरकीब देख उड़े सबके होश, देखे आविष्कार,आपने तक आपने एक से बढ़कर एक आविष्कार देखे होंगे,जिनको देखने के बाद आप भी एक पल के लिए अपनी आँखों पर भरोसा नहीं हुआ होगा, लेकिन फिर उस जुगाड़ से हो रहे काम को देख आप भी कहते हो की वाह भाई क्या जुगाड लगाया है, इन दिनों एक ऐसा ही वीडियो वायरल हो रहा है जिसे देखने के बाद लोग उस जुगाड़ को बनाने वाले की जमकर तारीफ कर रहे है, इस वीडियो में बन्दे ने कोल्हू से बैल को छोड़ कर अब नयी तरकीब से तेल निकलने के जुगाड़ का अविष्कार किया जिसे देख हर कोई दीवाना हो गया है।

मोटर बाइक के जरिए घाणी से निकाल डाला तेल

image 217

तेल निकालने की इस परपंरा के चलते एक कहावत कोल्हू का बैल भी सदियों से चली आ रही है। जैसा की आप जानते है की घानी से तेल निकालना काफी मुश्किल का काम होता है। ऐसे में कोल्हू से तेल निकलने के लिए उससे बैल को जोता जाता है, तभी घानी से तेल निकाला जाता है लेकिन आप अब इस तेल निकालने के गजब के जुगाड़ को देख हैरान हो जाएंगे, क्योकि यहां पर बैल छोड़ मोटर बाइक के जरिए घाणी से निकाल डाला, तेल घाणी का मालिक राजू बैल की जगह अब बाइक के जरिए घाणी का तेल निकाल रहा है। जिसका यह वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है।

यह भी पढ़े: इस नस्ल के मुर्गे की कीमत में आ जाएगी Alto कार, पालन कर किसानों की भर रही तिजोरी, जाने खुबिया

बैल लाने में करनी पड़ती थी काफी मशक्त

image 216

जिले के मांडलगढ़ निवासी राजू का कहना है कि भीलवाड़ा से नैनवां तक बैल को में हजारों दिक्क़ते आती है, साथ ही इससे पशु भी तक जाता है,इसीलिए उसने बैल की जगह मोटरसाइकिल को ही घानी से तेल निकालने के लिए जोत दिया है। बाइक को बैल की तरह जोता जाता है। बाइक को शुरू करके घाणी में से तिल्ली का तेल निकालना हो अथवा जांघम जो एक प्रकार का गुड़, तिल्ली,बदाम,काजू का एक मिश्रण होता है। जिसको जांघम कहा जाता है।

यह भी पढ़े: गेहूं की यह नई किस्में बढ़ाएगी किसानो की आय, प्रति हेक्टेयर होगा 74.9 क्विंटल तक का उत्पादन, जाने पूरी डिटेल्स

Desi Jugaad: कोल्हू से तेल निकालने के लिए इस शख्स ने लगाया गजब जुगाड़, अनोखी तरकीब देख उड़े सबके होश, देखे आविष्कार

350 रूपए प्रति किलो बिकता है कच्ची घानी का तेल

image 218

तेल में किसी प्रकार की मिलावट नहीं होने एवं आंखों के सामने तेल निकालने से ग्राहकों का विश्वास भी हो रहा है उन्होंने बताया कि इस धंधे में लागत कम है फायदा।राजू 350 रूपए प्रति में बेचता है घानी का तेल जिसको 350 किलो बेचा जाता है, अधिक है ऐसा जुगाड़ उसके पास दो है। एक जुगाड़ मांडलगढ़ में दूसरा जुगाड़ नैनवां में लगाया है।

Alok