कहीं आप इनके अलगे शिकार तो नहीं, ठगाने का नया तरीका Cyber Fraud

0
269
कहीं आप इनके अलगे शिकार तो नहीं, ठगाने का नया तरीका Cyber Fraud

Cyber Fraud New Trick : सावधान! कही आप भी तो साइबर क्रिमिनल्स के झांसे में नहीं आ रहे। ये लोग रोज फर्जीवाड़े के तरीके बदल रहे हैं, अब एक नया तरीका सामने आया “कैश ऑन डिलिवरी” इसमें विक्टिम को अंदाजा ही नहीं होता कि वह ठगा जा रहा है। आइये इससे बचने के तरीके जानते है –

साइबर क्रिमिनल्स का नया तरीका Cyber Fraud वैसे तो आएदिन साइबर फ्रॉड की खबरें आती रहती है लेकिन साइबर ठगी से जुड़ी खबरों को पढ़ने के बाद अगर आप ये सोचते हैं कि आप सेफ हैं तो इस खबर को जरूर पढ़ें, क्योंकि खुद को सुरक्षित समझने की गलती आप पर बहुत भारी पड़ सकती है। दरअसल, लोगों के जागरूक होने की वजह से क्रिमिनल्स भी फर्जीवाड़े के तरीके बदल रहे हैं। इसी कड़ी में एक नया तरीका कैश ऑन डिलिवरी का आया है, जिसमें सामने वाले को कहीं से पता ही नहीं चलता कि वह ठगों के जाल में फंस रहा है। इस तरह के कई मामले सामने आ चुके हैं। यहां हम आपको फ्रॉड की इस तरीके के बारे में विस्तार से बताएंगे। और कुछ टिप्स देंगे कैसे आप इस तरह की ठगी से बच सकते हैं।

jpg

यह भी पढ़े :-जल्द ही WhatsApp में बड़ा बदलाव होने जा रहा है जो आपको आपके पसंदीदा ब्रांड से जोड़ेगा WhatsApp Update

कहीं आप इनके अलगे शिकार तो नहीं, ठगाने का नया तरीका Cyber Fraud

अब इन नए तरीकों से आपको ठगा जा रहा है

1. डिलिवरी कैंसिल कराने के नाम पर

रिपोर्ट के अनुसार, नजफगढ़ में रहने वाले पंकज सिंह के पास कुछ दिन पहले एक कॉल आई. कॉल करने वाले ने बताया कि सर मैं पार्सल लेकर आपके घर के बाहर खड़ा हूं, पंकज ने कोई भी ऑनलाइन शॉपिंग नहीं की थी, पंकज के आते ही डिलिवरी बॉय बोला सर आपने कैश ऑन डिलिवरी में कुछ बुक किया था। पैसे देकर ऑर्डर ले लो। पंकज ने कहा मैंने ऐसा कोई ऑर्डर नहीं किया है, इसे आप कैंसिल करो। डिलिवरी बॉय ने नाटक करते हुए कस्‍टमर केयर को फोन लगाया और पंकज की बात कराई। बातचीत के दौरान कॉल पर मैजूद शख्स ने पंकज से कहा कि ऑर्डर कैंसिल हो जाएगा, लेकिन इस प्रोसेस के लिए आपको मोबाइल पर आया ओटीपी बताना होगा। पंकज उनकी बातों में आ गए और कॉल पर रहते हुए उस शख्स को ओटीपी बता दिया। इसके बाद उसने कहा कि आपका ऑर्डर कैंसिल हो गया है। डिलिवरी बॉय भी वहां से चला गया। पंकज वापस अपने कमरे में आए, लेकिन इसी दौरान उनके मोबाइल पर बैंक से मैसेज आया, जिसमें खाते में मौजूद सारे पैसे निकलने की बात थी। मैसेज देखकर उनके होश उड़ गए। जाँच पड़ताल के बाद उन्हें पता चला कि वह डिलिवरी के नाम पर ठगी के शिकार हो चुके हैं।

यह भी पढ़े :-तहलका मचा रहा IQOO का जबरदस्त फीचर्स वाला शानदार स्मार्टफोन, तगड़े लुक और धांसू बैटरी के साथ जानिए इसकी कीमत

कहीं आप इनके अलगे शिकार तो नहीं, ठगाने का नया तरीका Cyber Fraud

2. पेंडिंग EMI जमा करने के लिए पुलिस अफसर बनकर लूटा

ठग अब पुलिस अफसर बनकर पेंडिंग ईएमआई के लिए कस्टमर को कॉल करते हैं और उनसे ठगी करते हैं। पिछले दिनों ही दिल्‍ली के पालम विहार थाने का एसएचओ बनकर ठगों ने एक शख्स को कॉल किया और कहा कि आपकी कोई ईएमआई पेंडिंग है। इसकी शिकायत कंपनी की तरफ से हमारे पास आई है। अपनी ईएमआई का भुगतान फौरन करो, नहीं तो हम केस दर्ज करेंगे। इसके बाद उस फर्जी एसएचओ ने उस व्यक्ति को एक नंबर दिया औऱ कहा कि ये वकील है इससे बात कर लो। उन्होंने जब उस नंबर पर कॉल किया तो सामने वाले ने खुद को वकील बताते हुए पैसे ट्रांसफर करा लिए।और वह शख्स लूट लिए गए।

साइबर फ्रॉड से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

  • अगर कोई आपके पास सामान लेकर आए और कहे कि आपने बुक कराया है तो उससे बुकिंग की जानकारी और उसका सबूत मांगें, साथ ही अपनी तरफ से भी सबूत दिखा दें कि आपने कोई ऑर्डर नहीं किया है। प्रमुख शॉपिंग वेबसाइट या ऐप के पेज पर जाकर दिखा सकते हैं कि आपने कोई ऑर्डर नहीं किया।
  • अगर आपके घर में किसी ने गलती से ऑर्डर कर भी दिया है और आप उस सामान को नहीं लेना चाहते हैं तो आपको उसे कैंसिल करने के लिए कोई प्रोसेस करने की जरूरत नहीं है, अगर आप उस पैकेट को रिसिव नहीं करेंगे तो वह खुद ही वापस चला जाएगा और कैंसिल हो जाएगा।
  • कोई भी आपके पास ऑर्डर कैंसिल कराने के लिए आए और OTP माँगे तो ओटीपी न बताएं।
  • बात चाहे ऑर्डर कैंसल की हो या कोई दूसरी हो, कॉल पर रहते हुए कोई भी ओटीपी से जुड़ा मैसेज आए तो उसे ध्यान से पढ़ें। दरअसल, ठग अक्सर कॉल पर रहते हुए ध्यान भटकाते हैं और आप फौरन ओटीपी बता देते हैं।
  • अगर लोन या ईएमआई पेंडिंग को लेकर कोई कॉल आए जिसमें सामने वाला खुद को पुलिस अफसर बताए तो पहले उस नंबर को वेरिफाई करें। आप लोकल थाने में कॉल करके भी नंबर वेरिफाई कर सकते हैं।