Business idea: भारत में कम बजट में शुरू करें ये 5 धंधे, और कमाएं तगड़ा मुनाफा…

By Alok Gaykwad

Published on:

Follow Us

Business idea: भारत में कम बजट में शुरू करें ये 5 धंधे, और कमाएं तगड़ा मुनाफा, भारत में ऐसे कई बिजनेस हैं, जिन्हें आप कम लागत में शुरू करके ज्यादा मुनाफा कमा सकते हैं. इन्हें शुरू करने के लिए आपको सिर्फ 50,000 रुपये खर्च करने होंगे और आप हर महीने अच्छी कमाई कर सकते हैं.

यह भी पढ़े : – Chai Patti: घर के गमले में उगाएं अपनी चाय की पत्ती, जाने पूरी जानकारी…

भारत में हजारों लोग अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं. लेकिन बिजनेस शुरू करने के लिए पर्याप्त पूंजी न होने के कारण वे पीछे हट जाते हैं. कोई भी बिजनेस शुरू करने से पहले एक अच्छा आइडिया और लागत की जरूरत होती है.

आज के इस कृषि जागरण लेख में हम आपको उन टॉप 5 बिजनेस आइडियाज के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें आप केवल 50,000 रुपये के खर्च में शुरू करके हर महीने अच्छी कमाई कर सकते हैं.

यह भी पढ़े : – Creta को रोडो पर मस्ताना भुला देंगा Tata Blackbird SUV का कंटाप लुक, देखे रॉयल फीचर्स के साथ में पॉवरफुल इंजन

5 कम बजट वाले बिजनेस आइडिया

  1. कपड़ा व्यवसाय
    भारत को त्योहारों का देश भी कहा जाता है, हर महीने कोई न कोई त्योहार होता है जिसमें लोग नए कपड़े पहनते हैं. नए कपड़ों के बिना सभी त्योहार अधूरे लगते हैं. त्योहारों के अलावा भी ऐसे कई अवसर आते हैं, जहां नए कपड़ों की जरूरत पड़ती है. इसके अलावा भारत में शादी का सीजन भी कपड़े का बिजनेस करने वालों के लिए किसी त्योहार से कम नहीं होता है.

शादी के सीजन में कपड़ों के बाजारों में अच्छी खासी भीड़ देखी जाती है. देश में कपड़ों की मांग कभी कम नहीं होती. 50,000 के बजट में बिजनेस शुरू करने वालों के लिए कपड़ा व्यवसाय काफी अच्छा हो सकता है.

  1. जूट का बैग बनाने का व्यवसाय
    जूट को दुनियाभर में ‘गोल्डन फाइबर’ के नाम से भी जाना जाता है और यह सबसे मजबूत फाइबरों में से एक है. जूट के बैग दोबारा इस्तेमाल किए जा सकते हैं, इसलिए ये पर्यावरण को भी कोई नुकसान नहीं पहुंचाते हैं. भारत में सिंगल यूज प्लास्टिक पर रोक लगाई जा रही है और जूट से बने उत्पाद तेजी से लोकप्रिय हो रहे हैं. इसलिए जूट का बैग बनाने का बिजनेस आपके लिए काफी मुनाफदायक हो सकता है.

जूट से बने बैग मजबूत और टिकाऊ होते हैं, इन्हें तैयार करने की प्रक्रिया काफी सरल है. जूट से आप शॉपिंग बैग्स, स्कूल बैग्स, लंच बैग्स, पानी की बोतल कवर और बोरी समेत कई चीजें बना सकते हैं. जूट बैग बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए आप 50,000 का छोटा निवेश भी कर सकते हैं.

  1. प्रिंटेड टी-शर्ट का बिजनेस
    प्रिंटेड टी-शर्ट की मांग हमेशा बाजार में रहती है, लोगों के बीच हमेशा प्रिंटेड टी-शर्ट पहनने का चलन देखा जाता है. आप कम लागत में प्रिंटेड टी-शर्ट का बिजनेस शुरू करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. आप सिर्फ 50,000 रुपये के छोटे से निवेश के साथ इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं.

देश में कई कंपनियां हैं जो अपने कर्मचारियों को अपने लोगो या डिजाइन वाली प्रिंटेड टी-शर्ट पहनाती हैं. प्रिंटेड टी-शर्ट का इस्तेमाल कई सामाजिक अभियानों में भी किया जाता है. इसके अलावा स्कूलों में भी प्रिंटेड टी-शर्ट की हमेशा डिमांड रहती है.

प्रिंटेड टी-शर्ट का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको कंप्यूटर या लैपटॉप, सबलिमेशन प्रिंटर, टी-शर्ट प्रिंटिंग मशीन, सबलिमेशन पेपर, कोरल ड्रा या फोटोशॉप सॉफ्टवेयर और काले या सफेद रंग की टी-शर्ट चाहिए होती हैं. एक टी-शर्ट को प्रिंट करने का खर्च लगभग 80 से 100 रुपये आता है

  1. स्ट्रीट फूड का बिजनेस

कम निवेश में अच्छी कमाई करने के लिए फूड स्टॉल या फूड ट्रक का बिजनेस एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है. इसे शुरू करने में लागत कम आती है और बाद में आप अपने बिजनेस को बढ़ाते हुए निवेश भी बढ़ा सकते हैं. भारत में स्ट्रीट फूड बहुत लोकप्रिय है, ज्यादातर लोग सप्ताह में कम से कम एक बार तो इसका लुत्फ उठाते ही हैं.

छोटे स्तर पर भी फूड स्टॉल का बिजनेस शुरू किया जा सकता है. इसके लिए आपको बहुत सारी खाने की चीजें बनाने की जरूरत नहीं है. स्ट्रीट फूड बेचने वाले लोग आमतौर पर रेहड़ी या वैन का इस्तेमाल करते हैं, जिन्हें आसानी से एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा सकता है.

  1. आलू के चिप्स का बिजनेस

आलू के चिप्स किसे पसंद नहीं होते? भारत में हमेशा आलू के चिप्स की डिमांड रहती है. अगर आप किसी भी किराना स्टोर पर जाते हैं, तो वहां आपको आलू के चिप्स के पैकेट जरूर मिलेंगे. देश में कई कंपनियां हैं, जो आलू के चिप्स बेचकर अच्छा मुनाफा कमा रही हैं. आप मात्र 50,000 रुपये के निवेश से घर से ही आलू के चिप्स बनाने का बिजनेस शुरू कर सकते हैं. आलू के चिप्स का बिजनेस साल के 365 दिन चलता है और इनकी डिमांड में कभी कमी नहीं आती.

इस बिजनेस को छोटे स्तर पर शुरू करने के लिए आपको आलू, चिप्स बनाने की मशीन, तेल, नमक और मिर्च पाउडर की जरूरत होगी.

चूंकि यह खाने का सामान है, इसलिए आपको ट्रेड लाइसेंस और FSSAI लाइसेंस की जरूरत पड़ेगी. साथ ही, इस बिजनेस के लिए आपको जीएसटी रजिस्ट्रेशन भी करवाना होगा. आलू के चिप्स बनने के बाद आप उन्हें आस-पास की दुकानों पर बेच सकते हैं या थोक भाव में मार्केट में भी बेच सकते हैं. कम समय में ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए आलू के चिप्स का बिजनेस एक अच्छा विकल्प है. अगर आप इसे छोटे स्तर पर शुरू करते हैं, तो आप हर महीने लगभग 15 से 20 हजार रुपये तक कमा सकते हैं.