भारतीय रिजर्व बैंक ने डिजिटल रुपया किया जारी जानिए कैसे कर सकते है उपयोग

0
199
RBI

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 1 नवंबर से डिजिटल रुपया (E-Rupee) का पायलट लॉन्च  करने जा रही है। मंगलवार से आरबीआई की अपनी डिजिटल मुद्रा (RBI Digital Currency) हकीकत बनने जा रही है। डिजिटल मुद्रा कैसे काम करेगी और डिजिटल मुद्रा किस तरह सुविधाजनक प्रामाणिक होगी।  

भारतीय रिजर्व बैंक ने डिजिटल रुपया को किया जारी जानिए कैसे कर सकते है उपयोग

डिजिटल मुद्रा रिजर्व बैंक ने की जारी (Reserve Bank issued digital currency)

भारतीय रिजर्व बैंक ने अक्टूबर महीने की शुरुआत में घोषणा करते हुए कहा था कि वह जल्द ही खास इस्तेमाल के लिए डिजिटल रुपया का पायलट लॉन्च करेगी। इसके लिए केंद्रीय बैंक ने 1 नवंबर 2022 की तारीख तय की थी। यह फिलहाल पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरुवात की जा रही है।  

ये भी पढ़िए मशहूर Mahindra Bolero पिकअप का नया धाकड़ मॉडल हुआ लॉन्च कम कीमत में मिलेंगा ज्यादा माइलेज

डिजिटल मुद्रा जारी करने की ये रही वजह (This is the reason for issuing digital currency)

केंद्रीय बैंक (Central bank) द्वारा जारी किए गए मुद्रा नोटों का एक डिजिटल रूप है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने आम बजट में वित्त वर्ष 2022-23 से ब्लॉक चेन आधारित डिजिटल रुपया पेश करने का ऐलान किया था। केंद्रीय बैंक की ओर से कहा गया था कि RBI डिजिटल रुपया का उद्देश्य मुद्रा के मौजूदा  रूपों को बदलने के बजाय डिजिटल करेंसी को उनका पूरक बनाना और उपयोगकर्ताओं को भुगतान के लिए एक अतिरिक्त विकल्प देना चाहिए।  

डिजिटल मुद्रा का इस तरह से उपयोग कर सकते है (How to use digital currency)

भारतीय रिजर्व बैंक की ओर डिजिटल रुपी एक पेमेंट का मीडियम होगा, जो सभी नागरिक, बिजनेस, सरकार और अन्य के लिए एक लीगल टेंडर के तौर पर जारी किया जाएगा। इसकी वैल्यू सेफ स्टोर वाले लीगल टेंडर नोट (मौजूदा करेंसी) के बराबर ही होगी। देश में आरबीआई की डिजिटल करेंसी आने के बाद आपको अपने पास कैश रखने की जरूरत नहीं रहेंगी।

डिजिटल रूपया को वॉलेट में रखा जा सकता है (Digital Rupee can be kept in the wallet)

डिजिटल रुपया को मोबाइल वॉलेट में रखा जा सकता है। इसके अलावा ग्राहक इसे बैंक मनी और कैश में आसानी से बदल भी सकते है। सबसे बड़ी बात इस डिजिटल रुपया का सर्कुलेशन पूरी तरह से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के नियंत्रण में होगा। डिजिटल रुपया आने से सरकार के साथ आम लोगों और बिजनेस के लिए लेनदेन की कमाई में कमी आ जाएँगी।  

डिजिटल मुद्रा को आसानी के उपयोग में लाया जा सकता है (Ease of use of digital currency)

पेमेंट करने के लिए इस डिजिटल मुद्रा (Digital Currency) का इस्तेमाल कर सकते हैं। इलेक्ट्रॉनिक रूप में अकाउंट में दिखाई देंगे। डिजिटल रुपया से करेंसी नोट से इसे बदला भी जा सकता है। ऑनलाइन अपना बैंक अकाउंट बैलेंस चेक करते हैं या मोबाइल वॉलेट चेक करते है, उसी तरह डिजिटल मुद्रा को इस्तेमाल कर सकेंगे। डिजिटल रुपया को UPI से भी जोड़े जाने की तैयारी चल रही है।