अब बार बार महंगे पेट्रोल-डीजल का टेंशन करे खत्म, अपनी पुरानी गाड़ी को ही बनाये Electric Car, मात्र आएगा इतना खर्चा

0
253
apni purani gadi ko hi banaye electric car

अब महंगे पेट्रोल-डीजल का टेंशन करे खत्म, अपनी ही पुरानी गाड़ी को करे Electric में कन्वर्ट, मात्र आएगा इतना खर्चा देश में बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर आम जनता परेशान है, इसीलिए लोग इलेक्ट्रिक और सीएनजी वाहन की ओर बढ़ रहे हैं, क्योंकि पेट्रोल और डीजल की तुलना में यह दोनों कारें बेहद सस्ता और अच्छा है, मालूम हो कि इन दिनों देश में इलेक्ट्रिक कारों को लेकर धूम मची हुई है, हर कोई अपनी पुरानी डीजल गाड़ी को बेच इलेक्ट्रिक कार खरीदने को सोच रहा है, लेकिन आपको या गाड़ी बेचने की कोई जरूरत नहीं है। आप इसी गाड़ी को बेहद कम खर्च में इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट कर सकते हैं, चलिए विस्तार से जानते हैं।

apni purani gadi ko hi banaye electric car

आपको बता दें कि देश में ऐसी बहुत सी कंपनियां हैं, फ्यूल वाहन को 4 से 5 लाख रुपए की लागत में इलेक्ट्रिक कार में बदल सकते हैं? इसमें आने वाला खर्च मोटे तौर पर मोटर की क्षमता और बैटरी क्षमता पर ज्यादा निर्भर करता है, जानकारी के मुताबिक, 12 किलो वाट की लिथियम-आयन बैटरी और 20 किलोवाट की इलेक्ट्रिक मोटर की कीमत 4 लाख रुपए तक हो सकती है। अब आप लोग सोच रहे हैं आखिरी गाड़ी को कहां से इलेक्ट्रिक कार में परिवर्तित करें, तो आपको बता दें कि कन्वर्ट करने से जुड़ी ज्यादातर कंपनियां हैदराबाद में हैं इनमें ईट्रायो और नॉर्थवेएमएस प्रमुख हैं, ये दोनों कंपनियां किसी भी पेट्रोल या डीजल कार को इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करती हैं।

वैसे राजधानी दिल्ली में भी कई ऐसी कंपनियां हैं, जो फ्यूल व्हीकल को इलेक्ट्रिक व्हीकल में बदलने का काम करती हैं. आप वैगनआर, ऑल्टो, डिजायर, i10, स्पार्क या दूसरी कोई भी पेट्रोल या डीजल कार इलेक्ट्रिक में कन्वर्ट करा सकते हैं। अब आप लोग सोच रहे हैं आखिर डीजल गाड़ी से इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करने पर फायदा क्या होगा,

तो आपको बता दें कि Nexon के इलेक्ट्रिक वर्जन के साथ अगर हम 6 रु,/यूनिट को बिजली की लागत के रूप में मानते हैं तो इसे पूरी तरह चार्ज करने के लिए ₹181.2 खर्च होंगे, फिर यह लगभग 300 कम तक दौड़ेगी, इस तरह इसकी कीमत प्रति किलोमीटर 60 पैसे के करीब होगी, इस तरह आप दो या तीन साल में इलेक्ट्रिक किट लगवाने में आने वाले खर्च के बराबर सेविंग कर पाएंगे।