Aaj Ka Panchang: आज ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत और वट पूर्णिमा व्रत का शुभ मुहूर्त और पूजा विधि, जाने आज का पंचांग

By charpesuraj4@gmail.com

Published on:

Follow Us

Aaj Ka Panchang: आज ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि है, जो ज्येष्ठ नक्षत्र, शुभ योग, वणिज करण, पश्चिम दिशा शूल और शुक्रवार है. ज्योतिष पंचांग के अनुसार आज शुभ मुहूर्त, सूर्योदय, चन्द्रोदय, सूर्यास्त, चन्द्रास्त, भद्रा, अशुभ समय, राहुकाल, दिशा शूल आदि के बारे में जानते हैं.

यह भी पढ़े- Shani Sade Sati: कुंभ राशि पर शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण, जानिए प्रभाव, उपाय और मुक्ति का समय

ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत और वट पूर्णिमा व्रत का महत्व

आज ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत और वट पूर्णिमा व्रत मनाया जा रहा है. विवाहित महिलाएं सुख-समृद्धि और वैवाहिक जीवन के सुख के लिए ज्येष्ठ पूर्णिमा का व्रत रखती हैं. वहीं वट पूर्णिमा का व्रत रखने से अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है. इस व्रत को सिर्फ विवाहित महिलाएं ही रखती हैं. वट पूर्णिमा के व्रत में बरगद के पेड़, सावित्री देवी और उनके पति सत्यवान की पूजा की जाती है. ज्येष्ठ अमावस्या के दिन पड़ने वाले वट सवित्री व्रत के समान ही दिन वट पूर्णिमा व्रत भी रखा जाता है.

आज ज्येष्ठ पूर्णिमा शुक्रवार के दिन पड़ रही है. ज्योतिष शास्त्र में शुक्रवार का दिन मां लक्ष्मी को समर्पित होता है. इस दिन लोग व्रत रखकर चंद्रमा और मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं. ज्येष्ठ पूर्णिमा का शुक्रवार के दिन पड़ना बहुत ही शुभ संयोग माना जाता है.

पूजा विधि

इस दिन सुबह में भगवान सत्यनारायण की कथा सुनें. फिर प्रदोष काल यानि सूर्यास्त के बाद अंधेरा होने पर विधिपूर्वक माता लक्ष्मी की पूजा करें. उन्हें खीर, बताशा या दूध से बनी सफेद मिठाई का भोग लगाएं. इनके आशीर्वाद से आपका धन-धान्य बढ़ेगा. शाम को जब चंद्रमा निकल आए तो उसे जल अर्पित करें. कच्चा दूध, सफेद फूल, चीनी, अक्षत आदि डालकर चंद्रमा को अर्घ्य दें. इससे कुंडली का चंद्रदोष दूर होगा.

ज्योतिष पंचांग (21 जून 2024)

  • तिथि – चतुर्दशी – प्रातः 7:31 बजे तक, उसके बाद पूर्णिमा तिथि शुरू
  • नक्षत्र – ज्येष्ठ – शाम 6:19 बजे तक, फिर मूल नक्षत्र
  • करण – वणिज – प्रातः 7:31 बजे तक, फिर विश्ति – शाम 7:08 बजे तक, फिर बव
  • योग – शुभ – शाम 6:42 बजे तक, उसके बाद शुकल योग
  • पक्ष – शुक्ल
  • दिन – शुक्रवार
  • चंद्र राशि – वृश्चिक – शाम 6:19 बजे तक, फिर धनु

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

  • सूर्योदय – 05:24 AM
  • सूर्यास्त – 07:22 PM
  • चंद्रोदय – 07:04 PM
  • चंद्रास्त – 05:11 AM, 22 जून
  • अभिजीत मुहूर्त – सुबह 11:55 बजे से 12:51 बजे तक
  • ब्रह्म मुहूर्त – 04:04 AM से 04:44 AM तक

अशुभ समय

  • भद्रा: प्रातः 7:31 बजे से शाम 7:08 बजे तक
  • भद्रा स्थान: स्वर्ग – प्रातः 7:31 बजे से शाम 6:19 बजे